1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

सामाजिक एकजुटता में जर्मनी औसत

किसी भी समाज की बेहतरी सामाजिक एकजुटता में देखी जाती है, लेकिन 34 देशों में हुए एक सर्वे के अनुसार जर्मनी इस मामले में औसत है. चोटी पर स्कैंडेनेविया के देश हैं जबकि जर्मनी 14वें नंबर पर है.

सर्वे जर्मनी के प्रसिद्ध बैर्टेल्समन फाउंडेशन ने कराया. फाउंडेशन की रिपोर्ट के अनुसार सर्वे में डेनमार्क पहले स्थान पर है जबकि रोमानिया ने अंतिम स्थान पाया है. इस अध्ययन में लोगों में भरोसे और न्याय की भावना जैसे मुद्दों पर 1989 के बाद से हुए विकास पर नजर डाली गई है.

रिसर्चरों के अनुसार जर्मनी के सर्वे में शामिल देशों के बीच में होने की वजह यह है कि समाज में इस बीच जिंदगी के अलग अलग तरह के मॉडलों को स्वीकार नहीं किया जा रहा है. दूसरे देशों की तुलना में यहां के लोग अपने देश के साथ जुड़ाव भी कम महसूस करते हैं. इसके विपरीत देश के संस्थानों में जर्मनों का भरोसा और न्याय की भावना बढ़ी है. बैर्टेल्समन फाउंडेशन के श्टेफान फोपेल के अनुसार बैंकों में लोगों का भरोसा काफी कम हुआ है.

लोगों के बीच गहरी एकजुटता की महत्वपूर्ण शर्त रिसर्चरों के अनुसार संपन्नता और समृद्धि के अलावा आय में समानता और ज्ञान समाज का विकास है. बैर्टेल्समन फाउंडेशन के लिए ब्रेमेन यूनिवर्सिटी की एक रिसर्च टीम के सर्वे का मानना है कि भूमंडलीकरण और आप्रवासन इस प्रक्रिया में कोई बाधा नहीं हैं.

रिसर्चरों की टीम ने सामाजिक एकजुटता पर अपने अध्ययन में क्रोएशिया के अलावा यूरोपीय संघ के सभी देशों को शामिल किया है. इसके अलावा आर्थिक सहयोग व विकास संगठन ओईसीडी के सदस्यों ऑस्ट्रेलिया, इस्राएल, कनाडा, न्यूजीलैंड, नॉर्वे, स्विट्जरलैंड और अमेरिका भी सर्वे में शामिल थे.

इस अध्ययन का आधार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किए गए सर्वे के अलावा विशेषज्ञों की राय और भ्रष्टाचार का इंडेक्स रहा है. अंतिम नतीजे में नौ इलाकों में किए गए सर्वे के नतीजे शामिल किए गए हैं. उनमें सामाजिक नेटवर्क, दूसरे लोगों में भरोसा, बहुलता के प्रति रवैया, पहचान का मुद्दा, संस्थानों में भरोसा, न्याय की भावना, एकजुटता और मदद की तैयारी, सामाजिक नियमों को मानना और समाज में हिस्सेदारी शामिल है.

एमजे/एजेए (डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री