1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

सानिया और सोमदेव स्वर्ण के समीप

एशियाई खेलों में टेनिस के सिंगल्स मुकाबलों में तो भारत की सानिया मिर्जा को कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा लेकिन डबल्स स्पर्धा में उन्होंने और सोमदेव देववर्मन ने स्वर्ण पदक की उम्मीदों को जीवित रखा है.

default

सिंगल्स में मिला बस कांस्य

सिंगल्स मुकाबलों में सानिया से बहुत उम्मीदें लगाई जा रही थीं लेकिन वह सेमीफाइनल में उज्बेकिस्तान की अकगुल अमानमुरादोवा से 7-6(7), 3-6, 4-6 से हार गईं. लेकिन इसकी भरपाई डबल्स में करते हुए सानिया विष्णु वर्धन के साथ फाइनल में पहुंच गईं. भारतीय जोड़ी ने तमारीन तानासुगार्न और सनचाई रातीवाता की थाई जोड़ी को 6-3, 6-7 (3), 10-5 से हराया.

2006 के दोहा एशियाड में सानिया ने लिएंडर पेस के साथ मिल कर डबल्स का स्वर्ण पदक जीता था जबकि सिंगल्स मुकाबले में उन्हें रजत पदक मिला था.

Commonwealth Games Indien Tennis Somdev Devvarman Flash-Galerie

सोमदेव देववर्मन

पेस लंदन में वर्ल्ड टूर फाइनल्स की वजह से एशियाई खेलों में हिस्सा नहीं ले रहे हैं.

उधर पुरूषों के मुकाबलों में सोमदेव देववर्मन ने चीन के चांग को त्से को 6-4 6-4 से हरा कर सिंगल्स के सेमीफाइनल में जगह बना ली है. इस तरह उनका कांस्य पदक को पक्का माना जा सकता है. हालांकि सोमदेव अपने साथी सनम सिंह के साथ पुरूषों के डबल्स मुकाबलों के फाइनल में भी पहुंच गए हैं. छठी वरीयता प्राप्त भारतीय इस जोड़ी ने कोरिया के चाए छो सूंग और किम ह्युंग चून की जोड़ी को हराया.

उधर भारत के करन रस्तोगी पुरूषों के सिंगल्स मुकालबों के क्वॉर्टरफाइनल में सर्वोच्च वरीयता प्राप्त उज्बेकिस्तान के डेनिस इस्तोमिन से 2-6, 6-4, 5-7 से हार कर पदक से चूक गए.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः एमजी

DW.COM

WWW-Links