1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

साउथ चाइना सी में कब्जा केवल चीन का ही मामला नहीं

विवादित साउथ चाइना सी में चीन के लड़ाकू जेट विमान और जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइलें तैनात करने से अमेरिका समेत कई देश चिंतित हैं. चीन का कहना है कि दूसरे देशों के ऐसे सैन्यीकरण के प्रयासों पर मीडिया चुप रहती है.

default

साउथ चाइना सी का स्प्राटली द्वीप की तस्वीर

अमेरिकी समाचारों में बताया गया है कि चीन ने साउथ चाइना सी के इलाके में अब लड़ाकू जेट विमान और जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइलें तैनात कर दी हैं. एक गुप्त सरकारी स्रोत के हवाले से अमेरिकी चैनल सीएनएन ने यह भी कहा है कि इन द्वीपीय इलाकों में युद्धक विमान तैनात करने की कार्रवाई चीन पहले भी कर चुका है. यह विवादित द्वीप भूमि के उस हिस्से में हैं जो शिपिंग मार्ग के लिहाज से दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है.

इस इलाके में जे-7 और जे-11 तैनात करने की खबर पर अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने चीनी विदेश मंत्री वांग यी से वॉशिंगटन में मिलकर बात की. हाल ही में पेंटागन ने कहा है कि वे इस इलाके में अंतरराष्ट्रीय मेरीटाइम कानूनों को बल देंगे. इस इलाके में बढ़ते तनाव पर वांग ने कहा, "साउथ चाइना सी इलाके में नेविगेशन की पूरी आजादी है."

इस क्षेत्र के बाकी देशों की आपत्ति के बावजूद वांग ने दोहराया कि पूरा सागर चीनी कब्जे में आता है और वे आगे भी इन द्वीपों में विस्तार और विकास का काम जारी रखेंगे. इस इलाके के पार्सेल चेन के वुडी आइलैंड पर 25 साल पहले से चीन ने रनवे का निर्माण कार्य शुरु किया था और 2014 में जाकर इसका बड़ा विस्तार किया. ताइवान और विएतनाम भी इस पर अपना कब्जा जताते हैं.

Paracel-Inseln Woody Island Satellitenbilder Chinesische Boden-Luft-Raketen

वुडी आइलैंड में आए बदलावों को दिखाने वाला सैटेलाइट चित्र

अमेरिका इन इलाकों में नियमित रूप से हवाई और जलमार्ग पेट्रोलिंग करना चाहता है. इससे वह इस इलाके में चीनी बेड़ों की गतिविधि पर नजर रख सकेगा, जिस मार्ग से हर साल 5 खरब डॉलर से भी अधिक का वैश्विक कारोबार होता है.

वॉशिंगटन वार्ता के बाद प्रेस से बातचीत में चीनी मंत्री वांग यी ने कहा कि चीन और असोसिएशन ऑफ साउथईस्ट एशियन नेशंस मिलकर "पूरे साउथ चाइना सी इलाके में स्थायित्व बनाए रखने की क्षमता रखते हैं." उनका यह भी मानना है कि इस क्षेत्र का सैन्यीकरण करने के लिए कोई एक पक्ष जिम्मेदार नहीं है.

Spratly Inseln südliches chinesisches Meer

साउथ चाइना सी का स्प्राटली द्वीप

एक अमेरीकी थिंक टैंक ने बताया है कि चीन स्प्राटली द्वीप के इलाके में उच्च आवृत्ति वाले राडार तंत्र लगा सकता है जिससे उसे पूरे सागर पर नियंत्रण स्थापित करने में बड़ी कामयाबी मिलेगी.

दूसरी ओर चीन को मीडिया से ये शिकायत है कि वे साउथ चाइना सी के ही इलाके में अन्य पक्षों द्वारा लगाए गए राडार और हथियारों पर कुछ नहीं कहते और गलत तरीके से केवल चीन को ही निशाना बनाते हैं. इस महत्वपूर्ण व्यापारिक रूट पर चीन के अलावा विएतनाम, मलेशिया, ब्रुनेई, फिलिपींस और ताइवान भी अपना हक जताते हैं.

DW.COM

संबंधित सामग्री