1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

साइना नेहवाल खेल रत्न से सम्मानित

भारतीय बैंडमिंटन स्टार साइना नेहवाल देश के सबसे बड़े खेल पुरस्कार राजीव खेल रत्न से नवाजी गईं. साइना ने हाल में तीन बड़े अंतरराष्ट्रीय बैंडमिंटन टूर्नामेंट अपने नाम किए. वैसे पिछले हफ्ते वर्ल्ड चैंपियनशिप में वह हार गईं.

default

साइना ने पिछले एक साल में जिस तरह शानदार प्रदर्शन किया है, उसे देखते हुए वह इस प्रतिष्ठित पुस्कार के लिए स्वाभाविक पसंद बन गईं. रविवार को नई दिल्ली में हुए भव्य कार्यक्रम में खुद साइना पुरस्कार लेने के लिए मौजूद नहीं थीं. वर्ल्ड चैंपियनशिप के सिलसिले में वह अब भी पैरिस में ही हैं. वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी उनका प्रदर्शन अच्छा रहा लेकिन क्वॉर्टर फाइनल मुकाबले में वह चीन की खिलाड़ी से हार गईं.

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार में एक पदक और साढ़े सात लाख रुपये की नकद राशि दी जाती है. पिछले साल ही अर्जुन पुरस्कार पाने वाली साइना फिलहाल वर्ल्ड रैंकिंग में दूसरे नंबर पर हैं. यह पायदान उन्हें लगातार तीन खिताबी जीतों के बाद मिला है.

पूर्व भारतीय हॉकी कप्तान संदीप सिंह और महिला क्रिकेट टीम की कप्तान झूलन गोस्वामी भी उन 15 खिलाड़ियों में शामिल है जिन्हें रविवार को राष्ट्रपति भवन में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया. मुक्केबाज दिनेश कुमार, तैराक रेहान पोंछा, दुनिया के दूसरे सबसे युवा ग्रैंड मास्टर परिमार्जन नेगी और ओलंपिक खेलों में हिस्सा लेने वाले पहलवान राजीव तोमर को भी पिछले एक साल में उनकी उपलब्धियों के लिए अर्जुन पुस्कार से सम्मानित किया गया है.

अर्जुन पुस्कार पाने वाली भारतीय महिला हॉकी खिलाड़ी जसजीत कौर हांडा भी पुरस्कार वितरण समारोह में मौजूद नहीं थी. वह अर्जेंटीना में खेले जा रहे महिला हॉकी विश्व कप में हिस्सा ले रही हैं. इस बार किसी पुरुष क्रिकेटर को सम्मानित नहीं किया गया. अर्जुन पुरस्कार पाने वालों में दीपक मोंडल अकेले फुटबॉल खिलाड़ी और राजीव तोमर अकेले पहलवान हैं. इस फेहरिस्त में अन्य नामों में संजीव राजपूत (निशानेबाजी), कपिल देव (वॉलीबॉल), रेहान पोंछा (तैराकी), दिनेश कुमार (कबड्डी), राजेश चौहान (नौकायन) और जगसेर सिंह (पैरा ओलंपियन) शामिल हैं.

कोच के लिए दिए जाने वाले द्रोणाचार्य पुरस्कार में पांच लोग शामिल हैं. इस बार यह पुरस्कार एल इबोंचा सिंह (मुक्केबाजी), अजय कुमार बंसल (हॉकी), एके कुट्टी (एथलेटिक्स), कप्तान चंदरुप (पहलवानी) और सुभाष बी अग्रवाल (बिलियर्ड्स और स्कूनर) को दिया गया. अर्जुन पुरस्कार और द्रोणाचार्य पुरस्कारों में एक लुघ प्रतिमा, प्रशस्ति पत्र और पांच पांच लाख रुपये की नकद राशि दी जाती है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links