1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

साइकिल की सवारी मंजूर नहीं

वर्ल्ड कप जीतने की ख्वाहिश लिए ब्राजील पहुंचे जर्मन खिलाड़ियों को थोड़ी निराशा का सामना करना पड़ा है. खिलाड़ी चाहते थे कि वो साइकिल से ट्रेनिंग करने जाएं, लेकिन ब्राजीलियाई अधिकारियों ने ऐसा करने की इजाजत नहीं दी.

जर्मन टीम के सभी खिलाड़ी चाहते थे कि वे होटल से स्टेडियम तक अभ्यास करने जब जाएं तो साइकिल की सवारी करें. साइकिल चलाने से वॉर्म अप भी होता और ब्राजील व वहां की संस्कृति को करीब से देखने का मौका भी मिलता. लेकिन दुर्घटना की आशंका के चलते ब्राजील के सुरक्षा अधिकारियों ने जर्मन टीम को साइकिल चलाने की अनुमति नहीं दी.

फुटबॉल, सांबा और कॉर्निवाल के लिए मशहूर ब्राजील में अपराध और सड़क दुर्घटनाएं भी काफी होती हैं. देश में हर साल औसतन 43,800 लोग सड़क हादसों में मारे जाते हैं. गैंगवार और माफिया वार के लिए भी ब्राजील बदनाम है. इन परिस्थितियों को मद्देनजर सुरक्षा अधिकारियों को लगा कि वर्ल्ड कप जैसे आयोजन में स्टार खिलाड़ियों का साइकिल से जाना जोखिम भरा हो सकता है. अगर कुछ हुआ तो ब्राजील की बदनामी होगी.

ब्राजीलियाई अधिकारियों के फैसले की जानकारी देते हुए जर्मन टीम के मैनेजर ओलिवर बीयरहोफ ने कहा, "हमारे पास साइकिलें है और हम ट्रेनिंग के लिए उन्हीं पर जा सकते हैं लेकिन हम ऐसा नहीं कर सकते क्योंकि सुरक्षाकर्मी हमारी रक्षा करना चाहते हैं."

जर्मन टीम के मनोवैज्ञानिक हंस-डीटर हेरमन ने सुरक्षाकर्मियों के फैसले को "अजीब" करार दिया. हालांकि उन्होंने यह भी माना कि पहली प्राथमिकता सुरक्षा है. खिलाड़ियों को समझाते हुए हेरमन ने कहा, "खिलाड़ियों के लिए यह नकारात्मक नहीं है. उन्हें इससे वाकई कोई असर नहीं पड़ता."

ओएसजे/एमजे (डीपीए)

संबंधित सामग्री