1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

समारोह से दूर रहे बीसीसीआई के बड़े नाम

आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी पर जांच का शिकंजा कसने और बीसीसीआई के साथ उनकी तनातनी के चलते आईपीएल अवॉर्ड्स समारोह में शरद पवार सहित बीसीसीआई के बड़े अधिकारी शामिल नहीं हुए.

default

आईपीएल 3 में बेहतरीन खेल दिखाने वाले खिलाड़ियों को सम्मानित करने के लिए अवॉर्ड समारोह का आयोजन हुआ जिसमें बॉलीवुड स्टार शाह रुख़ ख़ान और करण जौहर ने भी हिस्सा लिया. अवॉर्ड समारोह के लिए बीसीसीआई और आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के सभी सदस्यों, फ़्रैंचाइज़ी के मालिकों, खिलाड़ियों और कर्मचारियों को निमंत्रण भेजा गया था.

Rajasthan Royals Shilpa Shetty

बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारियों ने आईपीएल विवाद के चलते इस समारोह में हिस्सा नहीं लिया. बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर, सचिव एन श्रीनिवासन और आईपीएल के वाइस चेयरमैन निरंजन शाह अवॉर्ड समारोह से दूर रहे.

हालांकि आईपीएल टीमों के मालिक विजय माल्या, प्रीति ज़िंटा, शिल्पा शेट्टी और उनके पति राज कुंद्रा, गायत्री रेड्डी, जय मेहता इस समारोह में शामिल हुए. लेकिन सुनील गावस्कर और आईएस बिंद्रा को छोड़ कर आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के सदस्यों ने इसका बहिष्कार किया.

समारोह में मीडिया से कुछ देर के लिए बात करते हुए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के मालिक विजय माल्या ने मैच फ़िक्सिंग के आरोपों को सिरे से ख़ारिज कर दिया और कहा कि जांच पूरी होने तक लोगों को इंतज़ार करना चाहिए. नेताओं पर अंगुली उठाते हुए माल्या ने कहा कि वे ही बेवजह इस मसले पर तूफ़ान खड़ा कर रहे हैं.

माल्या कहते हैं, "हमारे कई अनुभवी नेता भी आईपीएल को नहीं समझ पाए हैं और वे जल्दबाजी में नतीजे पर पहुंचना चाहते हैं." उनके मुताबिक सही तरीक़े से इस मामले की व्यापक जांच होनी चाहिए. विजय माल्या पूरी तरह से ललित मोदी का समर्थन कर रहे हैं.

बीसीसीआई के बड़े नामों के इस समारोह में शामिल न होने से मोदी और उनमें चल रहा तनाव एक बार फिर खुल कर सामने आ गया है. यह अवॉर्ड समारोह आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी के लिए आख़िरी साबित हो सकता है क्योंकि रिपोर्टें हैं कि 26 अप्रैल को होने वाली बैठक में मोदी को हटाने का फ़ैसला लिया जा सकता है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ए कुमार

संबंधित सामग्री