1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

समाजवादी पार्टी ने की राहुल की हत्या की कोशिशः अमर सिंह

समाजवादी पार्टी से निकाले गए अमर सिंह ने अपने ब्लॉग में सनसनीखेज दावा किया है. उनका कहना है कि जब हाल ही में कांग्रेस नेता राहुल गांधी उत्तर प्रदेश के दौरे पर गए, तो समाजवादी पार्टी ने उन पर जानलेवा हमला कराया.

default

अमर सिंह के वार

अमर सिंह ने अपने ब्लॉग में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह और अपने चिरप्रतिद्वंद्वी रहे आजम खान की तरफ भी इशारा किया और उनका नाम लिए बिना जम कर भड़ास निकाली है. अमर सिंह ने इन दोनों नेताओं पर खुद को इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है और कहा जब मतलब पूरा हो गया तो उन्हें निकाल बाहर कर दिया गया. वह लिखते हैं, "कभी इस देश की मशहूर अभिनेत्री (जया प्रदा) की गाड़ी पर काले गुब्बारे फेंके जाते हैं और कभी शांतिपूर्वक यूनिवर्सिटी में भाषण देने के लिए जाते हुए राहुल गांधी पर जानलेवा हमला किया जाता है. यह गंदी राजनीति है."

रविवार को जब राहुल गांधी इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में भाषण देने गए तो समाजवादी पार्टी की छात्र इकाई के सदस्यों ने कांग्रेस के गठबंधन वाली यूपीए सरकार पर यूनिवर्सिटी की छात्र यूनियन बहाल करने में नाकामी का आरोप लगाया और वे राहुल गांधी की गाड़ी पर चढ़ गए.

Der Generalsekretär der Kongresspartei Rahul Gandhi

राहुल गांधी के बहाने साधा अमर सिंह ने निशाना

अमर सिंह ने अपने ब्लॉग में मुलायम सिंह पर कई आरोप लगाए हैं लेकिन उनका नाम नहीं लिया है. वह कहते हैं, "कोई 14 साल तक पार्टी का वफादार रहता है, उसे पार्टी में नंबर दो का रुतबा भी दिया जाता है. लेकिन अगर वह कंप्यूटर, अंग्रेजी भाषा और ट्रैक्टर के विरोध के खिलाफ बोलता है उसे दलाल करार दिया जाता है." उनका इशारा 2009 के लोकसभा चु्नावों के लिए समाजवादी पार्टी के घोषणापत्र की तरफ था जिसमें कहा गया कि पार्टी कंप्यूटर के इस्तेमाल, अंग्रेजी और खेती बाड़ी में ट्रैक्टर के इस्तेमाल के खिलाफ है.

समाजवादी पार्टी के पूर्व महासचिव ने मुलायम सिंह पर मुख्यमंत्री कुर्सी पाने के लिए एक ऐसे विधायक (संभवतः अमरमणि त्रिपाठी) का साथ देने का भी आरोप लगाया जिसने एक महिला को गर्भवती किया और बाद में उसकी हत्या कर दी. अमर सिंह ने इसे "छोटी मोटी घटना" कहने के लिए भी मुलायम को आड़े हाथ लिया है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links