1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

समझौता धमाके की जानकारी पूरी जांच के बाद

भारत सरकार ने रविवार को कहा है कि समझौता एक्सप्रेस धमाके की जांच पूरी हो जाने के बाद वह जानकारियों को पाकिस्तान के साथ साझा करेगा. फिलहाल भारत ने जांच की सूचनाएं साझा करने से इनकार कर दिया है.

default

भारत के गृह सचिव जी के पिल्लई ने रविवार को कहा कि भारत पाकिस्तान की चिंता से वाकिफ है क्योंकि समझौता एक्सप्रेस धमाके में कई पाकिस्तानी नागरिक मारे गए. लेकिन धमाकों की जांच अभी पूरी नहीं हुई है. पिल्लई ने कहा, "अभी जांच चल रही है. जैसे ही जांच पूरी हो जाएगी और आरोप पत्र दाखिल कर दिए जाएंगे हम निश्चित रूप से पाकिस्तान को इसके बारे में जानकारी देंगे."

भारत और पाकिस्तान के बीच चलने वाली समझौता एक्सप्रेस में 17 फरवरी 2007 की रात हरियाणा में पानीपत के पास धमाका हुआ. कट्टरपंथी हिंदुवादी स्वामी असीमानंद ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए को दिए अपने इकबालिया बयान में खुद अपनी और अपने सहयोगियों की इसमें भूमिका बताई है. इन धमाकों में 68 लोगों की जान गई जिनमें से ज्यादातर पाकिस्तानी थे.

धर्म से फर्क नहीं

पिल्लई ने कहा कि सरकार दोषियों को सजा दिलाने के लिए वचनबद्ध है चाहे वह किसी भी धर्म के हों. सरकार के लिए वे बस अपराधी हैं और कुछ नहीं. पिल्लई ने कहा, "मेरे ख्याल से अब तक की जांच से यह साफ है कि हम सही रास्ते पर जा रहे हैं. अगर किसी ने कोई जुर्म किया है तो वह चाहे कोई भी हो या किसी धर्म से जुड़ा हो, हम उसे पकड़ेंगे और तय करेंगे कि उसे सजा मिले."

गृह सचिव ने उम्मीद जताई कि पाकिस्तान को भी इससे अच्छा संदेश गया है जिसने अब तक मुंबई हमले के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की है. उन्हें भी यह काम करना चाहिए, चाहे इन अपराधों में शामिल शख्स कोई भी हो.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः वी कुमार

DW.COM

WWW-Links