1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

सब कुछ हासिल कर लेने से एक कदम दूर पेस भूपति

भारतीय टेनिस स्टार लिएंडर पेस और महेश भूपति की स्टार जोड़ी एक बार फिर इतिहास रचने के करीब है. दोनों ने ऑस्ट्रेलियाई ओपन के फाइनल में जगह बना ली है.

default

पेस और भूपति की जोड़ी अगर टूर्नामेंट में एक जीत और हासिल कर लेती है तो वे अपना पहला ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब जीत लेंगे. लेकिन यहां तक का उनका सफर आसान नहीं रहा. सेमीफाइनल जीतने के लिए इस जोड़ी को कासी मेहनत करनी पड़ी.

सेमीफाइनल में पेस भूपति ने बेलारूस के मैक्स मिर्नेइ और कनाडा के डेनियल नेस्टर की जोड़ी को हराया. हालांकि विदेशी जोड़ी ने भारतीयों के सामने कम मुश्किलें पेश नहीं कीं. यह मैच 7-6, 4-6, 6-3 पर खत्म हुआ.

Mahesh Bhupathi und Leander Paes

मैच में पेस और भूपति ने बढ़िया शुरुआत की. लेकिन धीरे धीरे मुकाबला कड़ा होता गया और काफी देर तक डांवाडोल होने के बाद सेट भारतीय जोड़ी को मिला. इस सेट की थकान उन्हें दूसरे सेट में महंगी पड़ी और वे बड़ी आसानी से इसे हार गए. लेकिन तीसरे सेट में इंडियन एक्सप्रेस कही जाने वाली इस जोड़ी ने शानदार वापसी करते हुए मैदान मार लिया.

फाइनल में पेस और भूपति को दो अमेरिकी भाइयों से भिड़ना है जो टूर्नामेंट की नंबर एक सीड पर रखे गए हैं. ब्रायन ब्रदर्स, बॉब और माइक ने सेमीफाइनल में एरिक बुटोरैक और ज्यां जूलियन रॉजर को हराया है.

टूर्नामेंट में तीसरी सीड पर रखी गई भारतीय जोड़ी के ये दोनों सितारे नौ साल अलग रहने के बाद साथ आए हैं. अब वे फाइनल जीतकर इस साथ को इतिहास के पन्नों में दर्ज करा सकते हैं. क्योंकि अगर यह जोड़ी ऑस्ट्रेलियन ओपन जीत लेती है तो चारों मुख्य ग्रैंड स्लैम इसके खाते में आ जाएंगे.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links