1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

वर्ल्ड कप

सबसे बड़े खेल होंगे नई दिल्ली कॉमनवेल्थ

नई दिल्ली के कॉमनवेल्थ खेल खिलाड़ियों की तादाद के मामले में नया रिकॉर्ड बनाने जा रहे हैं. इन खेलों में कुल 7 हजार खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं, जो अब तक की कॉमनवेल्थ खेल प्रतियोगिता में सबसे ज्यादा है.

default

स्टेडियम हैं तैयार

इन खेलों में भारत के लगभग 600 खिलाड़ी हिस्सा लेंगे. नई दिल्ली में 3 से 14 अक्तूबर के बीच होने वाले कॉमनवेल्थ खेल 2006 के मेलबर्न खेलों का रिकॉर्ड तोड़ने की तैयारी कर रहे हैं. आयोजन समिति ने बताया कि मेलबर्न खेलों में अधिकारियों और खिलाड़ियों समेत कुल हिस्सेदारी 5800 लोगों की रही.

आयोजन समिति के महासचिव ललित भनोट ने कहा, "हम इस बात का एलान करते हुए बेहद खुश हैं कि नई दिल्ली के खेल कॉमनवेल्थ के इतिहास में सबसे बड़े खेल बनने जा रहे हैं. हमें पूरी उम्मीद है कि ये खेल बहुत आराम से पूरे होंगे."

भनोट ने बताया कि हिस्सा लेने वाले देशों के लिए एंट्री की आखिरी तारीख 3 सितंबर थी. उन्होंने कहा, "हमें करीब सात हजार एंट्री मिली हैं. और चूंकि फेडरेशन आखिरी मौके पर भी कुछ एंट्री स्वीकार करती है तो यह संख्या और बढ़ सकती है. अभी भी काफी अर्जियां आ रही हैं."

हालांकि भनोट ने किसी भी खिला़ड़ी का नाम बताने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा, "जरूरी यह है कि हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों में कई वर्ल्ड, ओलंपिक, कॉमनवेल्थ और महाद्वीपों के चैंपियंस शामिल हैं. हमें पूरा यकीन है कि पैसा देकर खेल देखने आने वाले और टीवी पर खेलों को देखने वाले दुनिया भर के लोग इन खिलाड़ियों को खेलते देखने का पूरा मजा लेंगे."

उन्होंने कहा कि वह कॉमनवेल्थ गेम्स फेडरेशन के नियमों से बंधे हैं इसलिए किसी खिलाड़ी का नाम जाहिर नहीं कर सकते. भनोट ने बताया कि खिलाड़ियों की कुल तादाद डेलीगेशन रजिस्ट्रेशन मीटिंग के बाद ही पता चल पाएगी. रजिस्ट्रेशन 16 सितंबर से 2 अक्तूबर के बीच होना है.

इन खेलों में भारत के खिलाड़ियों का दल सबसे बड़ा होगा. इसमें 600 से ज्यादा लोग होंगे. सबसे छोटा दल बोत्सवाना का होगा, जिनमें पांच से भी कम खिलाड़ी और अधिकारी होंगे. बड़े दल भेजने वाले देशों में ऑस्ट्रेलिया (550), इंग्लैंड (400), न्यूजीलैंड (325), मलयेशिया (325), स्कॉटलैंड (300) और वेल्स (240) शामिल हैं. 220 सदस्यों वाला दक्षिण अफ्रीका का दल अफ्रीका महाद्वीप से सबसे बड़ा होगा.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links