1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

सफेद झूठ बोल रहे हैं मोदीः बीसीसीआई

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने अपने सचिव एन श्रीनिवासन का समर्थन करते हुए कहा है कि आईपीएल के निलंबित चेयरमैन ललित मोदी के आरोप गलत हैं. श्रीनिवासन पर 2009 में खिलाड़ियों की बोली में फिक्सिंग के आरोप लगे हैं.

default

बोर्ड के अध्यक्ष शशांक मनोहर ने वर्किंग कमेटी की मीटिंग के बाद कहा कि श्रीनिवासन पर मोदी के आरोप 'सफेद झूठ' हैं. श्रीनिवासन आईपीएल टीम चेन्नई सुपरकिंग्स के मालिक हैं. मनोहर ने कहा, "मैं ऐसे कागजात पेश कर सकता हूं, जो साबित कर देंगे कि श्रीनिवासन के खिलाफ मोदी के आरोप सफेद झूठ हैं." जब मनोहर से पूछा गया कि क्या शनिवार की मीटिंग में इन दस्तावेजों को रखा गया, तो मनोहर कहा, हां.

एक टीवी चैनल ने दावा किया है कि श्रीनिवासन ने अपनी टीम के लिए इंग्लैंड के ऑल राउंडर एंड्रयू फ्लिंटॉफ की बोली जीतने के लिए फिक्सिंग करने की कोशिश की. चैनल ने एक ईमेल का हवाला दिया, जो ललित मोदी ने श्रीनिवासन को भेजी. कथित तौर पर इस ईमेल में मोदी ने लिखा, " कितना मुश्किल था उन्हें इस बात के लिए मनाना कि वे तनवीर को न छोड़ें और फ्लिंटॉफ को न लें. वॉर्न को संभालना मुश्किल हुआ, लेकिन आखिरकार मैंने प्यार और मार की नीति से उन्हें मना ही लिया. इस तरह अब उनके पास 18.75 लाख डॉलर हैं. प्यार, ललित."

श्रीनिवासन ने इन आरोपों को बकवास बताया. एक अन्य टीवी चैनल से बात करते हुए श्रीनिवासन ने कहा, "मुझे किसी की तरफदारी की जरूरत नहीं है. राजस्थान ने फ्लिंटॉफ के लिए 15 लाख डॉलर की बोली लगाई और हमने 15.5 लाख की बोली लगाकर उन्हें पछाड़ दिया. इसमें डील कहां है? मोदी का शेन वॉर्न पर नियंत्रण कैसे हो सकता है, अगर वह राजस्थान रॉयल्स के मालिक नहीं हैं तो?"

श्रीनिवासन पहली बार विवादों में नहीं हैं. कुछ ही दिन पहले उन पर चेन्नई सुपरकिंग्स के एक मैच में अंपायरों की फिक्सिंग के भी आरोप लगे. लेकिन बीसीसीआई उनके साथ खड़ा है. अध्यक्ष शशांक मनोहर ने कहा है कि मोदी पर आपराधिक मामला दर्ज कराए जाने के बारे में जल्द फैसला किया जाएगा.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः आभा एम