1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

सचिन को वायु सेना अफसर बनने का ऑफर

भारतीय वायु सेना ने स्टार बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को टॉप अफसर बनाने की पेशकश की है. वायु सेना ने रक्षा मंत्रालय को प्रस्ताव भेजा है कि क्रिकेट रिकॉर्डों के बादशाह सचिन तेंदुलकर को ग्रुप कैप्टन का मानद पद दिया जाए.

default

भारतीय वायु सेना के एक अधिकारी ने बताया, "वायु सेना ने सचिन तेंदुलकर को ग्रुप कैप्टन का मानद पद देकर उन्हें सम्मानित करने का प्रस्ताव रखा है. हमने इस सिलसिले में रक्षा मंत्रालय को अपना प्रस्ताव भेज दिया है और वे इस पर विचार कर रहे हैं."

अगर रक्षा मंत्रालय ने इस प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी तो

Deutschland ILA Berlin Schönefeld 2008

वायु सेना की पेशकश

फिर इसकी फाइल प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के दफ्तर में भेजी जाएगी. प्रधानमंत्री कार्यालय से यह प्रस्ताव राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा. भारत का राष्ट्रपति सेनाओं का सुप्रीम कमांडर होता है और इस तरह के मामले पर अंतिम फैसला उसी को लेना है.

क्रिकेटरों को सेना में मानद पद देने की परंपरा रही है. इससे पहले कपिल देव को 2008 में लेफ्टिनेंट कर्नल के मानद पद से नवाजा गया था. कपिल देव की अगुवाई में भारत ने पहली और इकलौती बार 1983 में वनडे वर्ल्ड कप जीता है.

सचिन तेंदुलकर 20 साल से ज्यादा से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे हैं और उनके नाम क्रिकेट के पचासों रिकॉर्ड आ चुके हैं. हाल ही में उन्हें भारत रत्न देने की भी मांग उठी थी, जिस पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है.

सचिन टेस्ट क्रिकेट और वनडे दोनों के सर्वोत्तम खिलाड़ी माने जाते हैं. दोनों ही तरह के क्रिकेट में उनके नाम सबसे ज्यादा शतक और सबसे ज्यादा रन हैं. इसी साल ग्वालियर में सचिन तेंदुलकर ने जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे मैच में 200 रन की पारी खेली, तो वनडे में दोहरा शतक लगाने वाले वह दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए.

रिपोर्टः पीटीआई/ए जमाल

संपादनः उ भट्टाचार्य

संबंधित सामग्री