1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

सईद मामले में सबूत ही नहीं दिए भारत ने- पाक

पाकिस्तान ने कहा है कि वह जमाद उद दावा प्रमुख हाफिज मोहम्मद सईद के खिलाफ कार्रवाई करने को तैयार है बशर्ते भारत उसे सईद के खिलाफ सबूत पेश करता है.

default

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि उनका देश मुंबई हमलों की साजिश रचाने वालों को सजा दिलाने के लिए तैयार है हालांकि इस सिलसिले में कोई समय सीमा तय नहीं की गई है. उन्होंने सारी अटकलों को खारिज कर दिया है जिसमें पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई और आतंकवादियों के बीच सांठगांठ की बात हो रही है.

समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सरकार हाफिज सईद को कई बार हिरासत में ले चुकी है लेकिन सबूत न होने की वजह से सईद पर कार्रवाई नहीं हो सकी है. कुरैशी ने सईद की गिरफ्तारी न होने पर सवालों के जवाब में कहा, "पाकिस्तान की सरकार कार्रवाई के लिए तैयार है. हमने भारत से कहा है कि वह हमें ठोस सबूत पेश करे जो कानूनी जांच पड़ताल में इस्तेमाल की जा सके."

Hafiz Mohammed Saeed

कुरैशी ने मुंबई हमलों में पकड़े गए भारतीय नागरिकों फाहिम अंसारी और सबाउद्दीन अहमद की ओर संकेत करते हुए कहा कि भारतीय सरकार ने सबूत की कमी को देखते हुए दोनों को बरी कर दिया था. उनका तर्क यह था कि अदालत सबूतों और गवाहों के आधार पर हर मामले को परखती है.

भारत का कहना है कि मुंबई हमलों में सईद की भूमिका को लेकर भारत ने पाकिस्तान को ठोस सबूत पेश किए हैं. पाकिस्तान को इस आधार पर सईद के खिलाफ कानूनी मामला दर्ज करना चाहिए. इस साल जून में भारत ने मुंबई हमलों में सईद के शामिल होने को लेकर पाकिस्तान को एक डोसियर सौंपा था. उस वक्त भारत के गृह मंत्री पी चिदंबरम ने पाकिस्तानी गृह मंत्री रहमान मलिक से इस्लामाबाद में मुलाकात की थी.

रिपोर्टःपीटीआई/एम गोपालकृष्णन

संपादनः आभा एम