1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

सईद के भाषणों पर रोक नहीं लगेगी: पाकिस्तान

भारत की मांग को सिरे से खारिज करते हुए पाकिस्तान ने हाफिज सईद के भड़काऊ भाषणों पर रोक लगाने से इनकार किया. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इसे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का मामला बताया.

default

पाकिस्तान ने साफ कहा है कि वह हाफिज सईद की भाषणबाजी पर रोक नहीं लगाएगा. भारत का आरोप है कि हाफिज 2008 के मुंबई हमलों का मास्टर माइंड है. सईद पर समय समय पर भारत विरोधी भाषण देने के आरोप भी लगते रहते हैं. इन्हीं कारणों का हवाला देकर भारत ने मांग की थी कि पाकिस्तान सईद के भाषण देने पर रोक लगाए.

लेकिन ऐसी किसी भी संभावना से इनकार करते हुए रविवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा, ''भारत की तरह पाकिस्तान में भी लोकतंत्र में अभिव्यक्ति की आजादी है. कई लोग, कई तरह के भाषण देते हैं. भारत और पाकिस्तान दोनों जगह

Pakistan Außenminister Shah Mehmood Qureshi

कुरैशी का इनकार

कट्टरपंथी विचारधारा के लोग हैं. इनके खिलाफ आप कुछ नहीं कर सकते. पाकिस्तान में कई लोग ऐसे विचार जाहिर करते हैं, इसमें मैं कुछ नहीं कर सकता हूं.''

पाकिस्तान की तरफ से यह बयान इस्लामाबाद में सार्क देशों के गृहमंत्रियों की बैठक के दौरान आया है. सईद के भाषणों को लेकर भारत की चिंताओं को खारिज करते हुए कुरैशी ने कहा, ''ज्यादातर जनता ऐसे नफरत भरे भाषणों से सहमत नहीं होती है. लोग सामान्य हालात चाहते हैं, शांति चाहते हैं, विकास चाहते हैं.''

इस बयान के बावजूद कुरैशी ने भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों की मुलाकात और भारतीय गृहमंत्री पी चिदंबरम की पाकिस्तान यात्रा को सकारात्मक बताया. उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच बातचीत और समझ में प्रगति हुई है. हालांकि दोनों देशों की नजरें अब चिदंबरम पर टिकी हुई हैं. देखना है कि पाकिस्तान से लौटते समय वह क्या टिपण्णी करते हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: उज्ज्वल भट्टाचार्य

संबंधित सामग्री