1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

श्रीलंकाई टीम पर लाहौर में हमले की रिपोर्ट तैयार

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने पिछले साल लाहौर में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर हुए आतंकवादी हमले की जांच पूरी कर ली है. अब बोर्ड को सरकार की तरफ से हरी झंडी मिलने का इंतजार है ताकि यह रिपोर्ट आईसीसी को सौंपी जा सके.

default

बट ने कहा, बस मंजूरी का इंतजार

पीसीबी के प्रवक्ता नदीम सरवर ने कहा कि सरकार की तरफ से अनुमित मिलने के बाद रिपोर्ट आईसीसी को सौंप दी जाएगी. उन्होंने इस बारे में कोई समय सीमा नहीं दी. लाहौर हाई कोर्ट के जजों के एक पैनल ने इस रिपोर्ट को तैयार किया है.

पिछले साल मार्च में टेस्ट मैच खेलने जा रही श्रीलंकाई टीम की बस को आतंकवादियों ने निशाना बनाया जिसमें छह पुलिसकर्मियों और एक बस ड्राइवर की मौत हो गई. हमले में कई श्रीलंकाई क्रिकेट खिलाड़ियों को भी चोटें आई थीं. इस हमले के बाद पाकिस्तान से 2011 के वर्ल्ड कप की साझा मेजबानी झीन ली गई. साथ ही वहां अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टूर्नामेंट कराने पर भी रोक लगा दी गई.

इस बीच पीसीबी ने आईसीसी के पूर्व अध्यक्ष एहसान मनि के इन आरोपों को गलत बताया है कि बोर्ड लाहौर हमले की रिपोर्ट को लटका कर पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बहाली में देरी कर रहा है. बोर्ड़ के मुखिया एजाज बट ने कहा, "मनी की बात सच्चाई से कोसों दूर है. हमले की रिपोर्ट तैयार हो गई है जिसकी एक एक कॉपी पीसीबी और सरकार को दे दी गई है. यह एक अहम मुद्दा है और हम सरकार की अनदेखी नहीं कर सकते. सरकार की मंजूरी मिलते ही हम रिपोर्ट आईसीसी को भेज देंगे."

2003 से 2006 तक आईसीसी के मुखिया रहे मनी ने सोमवार को कहा कि लाहौर हमले की रिपोर्ट सौंपने में पीसीबी की नाकामी की वजह से पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट बहाल नहीं हो पा रहा है. बट ने पीसीबी पर संगीन आरोप लगाने के लिए मनी को आडे हाथ लिया है. वह कहते हैं, "मनी पीसीबी की मदद से ही आईसीसी के मुखिया बने और अब उसी बोर्ड की वह आलोचना कर रहे हैं, वह भी ब्रिटेन में बैठकर. यह ठीक बात नहीं है."

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links