1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

श्रीनगर एनआईटी में तनाव, सीआरपीएफ तैनात

छात्रों के ​बीच टी20 विश्वकप सेमीफाइनल में भारत की हार को लेकर पैदा हुआ विवाद इतना बढ़ गया कि कैंपस में सीआरपीएफ तैनात कर दी गई है. केंद्र ने मामले की जांच के लिए एक टीम भेजी है.

मानव संसाधन मंत्रालय ने बुधवार को एक दो सदस्यीय टीम श्रीनगर के एनआईटी कैंपस में भेजी है. यह टीम एनआईटी कैंपस में पिछले हफ्ते भारतीय क्रिकेट टीम की वेस्ट इंडीज के हाथों हुई हार के बाद से छात्रों के बीच उपजे विवाद की जांच करेगी. मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है, ''मंत्रालय ने तय किया है कि निदेशक और उप सचिव स्तर के दो सदस्यों की एक टीम को भेजा जाएगा. यह टीम वहां छात्रों का पक्ष सुनेगी.''

बीते शुक्रवार को एनआईटी में कश्मीर के बाहरी और स्थानीय छात्रों के बीच टी20 विश्वकप सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद झड़प हो गई. इस झड़प के बाद विवाद को बढ़ता देख एनआईटी के अधिकारियों ने कक्षाओं को कुछ समय के लिए बंद कर दिया और ​मंगलवार को कक्षाएं फिर से खुलीं.

पिछले हफ्ते हुई झड़प के बाद मंगलवार को कैंपस में फिर से तनाव देखा गया. बाहरी राज्यों के उत्तेजित छात्रों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया जिसमें कुछ छात्रों को चोट भी आई है. इसके बाद से छात्र असुरक्षित होने और कैंपस छोड़ने की बात कर रहे हैं. हालात के तनावपूर्ण हो जाने के बाद बीती रात से कैंपस में सीआरपीएफ की तैनाती कर दी गई है.

राज्य सरकार ने कैंपस में दूसरे राज्यों से आकर पड़ रहे छात्रों को पूरी सुरक्षा देने का आश्वासन दिया है. एनआईटी विवाद पर बोलते हुए उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने कहा, ''हम एनआईटी में पढ़ रहे सभी छात्रों की जिम्मेदारी लेते हैं. इसके लिए हमने सारे ही उपाय किए हुए हैं.''

सिंह का कहना था कि प्रशासन ने एनआईटी छात्रों के साथ इस मसले को सुलझाने के लिए बैठक की है. बाहरी राज्यों के छात्र ​इस विवाद के बाद परीक्षाओं को कुछ समय के लिए टालने की मांग र​हे हैं. सिंह ने बताया, ''​एनआईटी के डायरेक्टर ने कहा है कि छात्रों की यह मांग मान ली गई है.''

उधर जम्मू कश्मीर में विपक्षी पार्टी एनसीपी के प्रमुख ओमर अब्दुल्लाह ने एनआईटी के ताजा घटना क्रम पर प्रतिक्रिया करते हुए अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है, ''जम्मू ​कश्मीर की पुलिस को हटाकर सीआरपीएफ और एचआरडी मंत्रालय की ओर से भेजी जा रही टीम की तरफ भागना, दिल्ली केंद्र सरकार के महबूबा मुफ्ती पर भरोसे को बतला रहा है.''

अपने अगले ट्वीट में ओमर लिखते हैं, ''ठंडे दिमाग और समझदारी के साथ काम करने की जरूरत है. एनआईटी के मसले को बिना कहीं और से नियंत्रण किए राज्य सरकार को निपटाने दें.''

वहीं गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को एनआईटी के हालातों पर चर्चा करने के​ लिए बुलाया है.

आरजे/आईबी (पीटीआई)

संबंधित सामग्री