1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

शेर के पास सोना पसंद करेंगे?

लंदन के चिड़ियाघर ने अनोखे तरीकों से छुट्टियां मनाने के शौकीनों को लुभाने का नया तरीका निकाला है. नए सफारी लॉज की बुकिंग भी शुरू हो गई है.

इस सफारी लॉज की आकर्षक बात यह है कि परिसर में आपके अलावा शेर भी मौजूद होंगे. इसे एशियाई शेरों की खतरे में पड़ी प्रजातियों को बढ़ाने के मकसद से तैयार किया जा रहा है. सैलानियों के लिए खास इलाका 'रूम विद अ जू' इसी इलाके में स्थित होगा. यहां आने वाले इस लॉज में रात बिता सकेंगे. एक रात का किराया दो व्यक्तियों के लिए करीब 750 यूरो होगा. इसमें सुबह का नाश्ता, रात का खाना, ड्रिंक, रात में रुकने का इंतजाम और चिड़ियाघर का एक टुअर शामिल होगा.

चिड़ियाघर की प्रोडक्ट डेवलपमेंट प्रमुख एमा टेलर के मुताबिक, "शानदार एशियाई शेर के करीब सोना, यह दूसरे से अलग जबरदस्त अनुभव होगा." यहां आने वाले मेहमान गिर लायन लॉज में ठहराए जाएंगे जो कि नौ लकड़ी के बने केबिन हैं. ये शेरों से सुरक्षित दूरी पर होंगे और इनके इर्द गिर्द सुरक्षित बाड़ का बंदोबस्त होगा. ठहरने के कमरों का डिजायन एशिया के गिर जंगल के पास बने गेस्ट हाउसों के प्रेरित है. गिर जंगल पश्चिमी भारत का सुरक्षित सफारी ठिकाना है. यह एशिया का एकमात्र इलाका रह गया है जहां एशियाई शेर जंगलों में पाए जाते हैं.

एशियाई शेर अफ्रीकी शेरों के मुकाबले छोटे होते हैं. इनकी संख्या बड़े स्तर पर शिकार के चलते बुरी तरह प्रभावित हुई है. अब ये मात्र 500 ही बचे हैं और विलुप्ति के खतरे में हैं. लंदन के चिड़ियाघर को उम्मीद है कि उनकी इस पहल से भारतीय शेरों के संरक्षण में मदद मिलेगी. वे भारत में भी इनकी रखवाली की पहल करने की योजना बना रहे हैं. वे स्थानीय स्टाफ और इलाके के लोगों को इस बारे में शिक्षित करना चाहते हैं.

एसएफ/एमजे (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री