1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

शूमाखर मामले में उम्मीद की किरण

मिषाएल शूमाखर को धीरे धीरे होश में लाने की कोशिश हो रही है. उन्हें कृत्रिम कोमा से बाहर निकालने के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं. फॉर्मूला वन चैंपियन को स्की दुर्घटना में सिर पर गंभीर चोट आई थी.

शूमाखर की मैनेजर सबीने केम ने बताया, "मिषाएल को नींद में रखने वाली दवाएं कम की जा रही हैं ताकि उनके जागने की प्रक्रिया शुरू हो सके. इसमें ज्यादा वक्त भी लग सकता है. परिवार की सुरक्षा के लिए यह पहले ही तय किया गया था कि जब यह प्रक्रिया पूरी तरह ठीक हो जाएगी तभी इसके बारे में सूचना दी जाएगी. इस बारे आगे कोई जानकारी नहीं दी जाएगी."


केम ने बुधवार को फ्रांसीसी अखबार डेली एल एक्विपे की खबर पर कमेंट करने से इनकार कर दिया है. इसमें लिखा गया है कि शूमाखर को कोमा से बाहर लाने का काम शुरू कर दिया गया है और उनकी स्थिति बेहतर है.
गुरुवार को दिए बयान में शूमाखर की मैनेजर ने कहा, "मिषाएल शूमाखर का परिवार उनकी निजता और शांतिपूर्ण इलाज का आदर करने की अपील कर रहा है और चाहता है कि डॉक्टरों को इलाज में परेशान न किया जाए. साथ ही उन्होंने दुनिया भर से मिलने वाली दुआओं के लिए तहे दिल से धन्यवाद दिया है."
29 दिसंबर 2013 को शूमाखर फ्रांस की आल्प पहाड़ियों में स्की के दौरान दुर्घटना का शिकार हो गए थे. दिमाग में जमे खून के थक्के निकालने के लिए उन्हें कृत्रिम कोमा में रखा गया था. इस दौरान उनके दो ऑपरेशन भी हो चुके हैं. कोमा से बाहर आने के बाद यह भी पता चल सकेगा कि क्या दिमाग की सूजन कम हुई है और दिमाग ठीक से काम कर रहा है या नहीं. कोमा के दौरान उनके शरीर का तापमान स्थिर रखा गया था ताकि मस्तिष्क में आई सूजन उतर सके और ऊर्जा की खपत दिमाग में कम हो.
जांचकर्ता पता लगा रहे हैं कि शूमाखर कितनी गति से स्की कर रहे जब वह पत्थर से टकराए. फ्रांसीसी पुलिस ने कहा है कि स्लोप अच्छे से मार्क किया हुआ था. मेरिबेल में वह छुट्टियों के दौरान इस दुर्घटना के बाद उन्हें सिर में दाहिनी ओर चोट लगी थी.
फॉर्मूला वन की पूरी दुनिया शूमाखर के साथ है. 11 साल के करियर में शूमाखर ने सात खिताब जीते हैं.
एएम/एजेए (एएफपी, डीपीए)

DW.COM