1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

शूमाखर को पछाड़ सकते हैं फेटल

26 साल की उम्र,117 फॉर्मूला वन की रेस, 36 जीतें और चार बार चैम्पियन. सेबास्टियान फेटल में इतनी काबिलियत है कि वह मिषाएल शूमाखर के सात बार फॉर्मूला वन चैम्पियन रहने का रिकॉर्ड तोड़ सकें. यह सपना यकीन में बदलने लगा है.

जर्मन ड्राइवर फेटल के भारतीय ग्रां प्री और फॉर्मूला वन चैम्पियनशिप जीतने के बाद रेड बुल के मुखिया क्रिस्चन होर्नर ने कहा कि फेटल शूमाखर का रिकॉर्ड तोड़ेंगे. शूमाखर ने जब 2006 में सातवीं बार चैम्पियन बनने के बाद फॉर्मूला वन से पहली बार संन्यास लिया तब ज्यादातर लोगों का मानना था कि उनके रिकॉर्ड को टूटते देखने के लिए कई पीढ़ियों तक इंतजार करना होगा, पर अब बहुत से लोग मानने लगे हैं कि फेटल इस इंतजार को छोटा कर सकते हैं.

फेटल के साथ ही उनकी टीम रेडबुल भी चौथी बार बेस्ट कंस्ट्रक्टर का खिताब जीतने में कामयाब हुई है. क्रिस्चन होर्नर ने कहा, "उनकी जीत का रिकॉर्ड अतुलनीय है. इस खेल में बहुत सी चीजें हैं जो इसे तय करती हैं. यह बहुत कुछ सही मशीनरी पर भी निर्भर करता है लेकिन गुणों के आधार पर देखें तो कोई कारण नहीं कि ऐसा नहीं हो सकता." बेनेटन और फरारी के साथ रहे शूमाखर ने 307 रेसों में से कुल 91 रेसों में जीत का परचम लहराया था.

रविवार को फेटल ने पोल पोजिशन से शुरूआत कर लगातार तीसरे साल भारतीय ग्रां प्री जीती है. होर्नर और रेडबुल की कार डिजाइन करने वाले आद्रियान नेवे का भी कहना है कि जर्मन ड्राइवर लगातार बेहतर हो रहे हैं, "मेरा ख्याल है कि सेबास्टियान इस साल विकसित हुए हैं. जिस तरह की उन्होंने ड्राइविंग की है और जिस स्तर पर उन्होंने प्रदर्शन दिया है, वह इस साल बेहतरीन रहा है, वह अपना स्तर लगातार बढ़ाते जा रहे हैं."

गलतियों से सीख

दूसरे कई लोगों की तरह ही फेटल ने भी अपनी गलतियों से सीख ली है. जब वह गाड़ी से बाहर निकले तो लगातार यह याद करते रहे कि रेस के दौरान क्या हुआ था. नेवे ने कहा, "आप ही देखिए सेबास्टियान के साथ हर वक्त यही होता है. मैं हमेशा मानता हूं कि जब भी वह कार में जाते हैं और जब बाहर निकलते हैं तो पिछली बार की तुलना में कुछ ज्यादा जानकारी के साथ." नेवे ने कहा कि फेटल की ड्राईविंग "तेज मगर कच्चे से अब अतुलनीय और हर तरह से बेहतर" हो गई है. 2009 और 2010 में कभी कभी कुछ गलत फैसलों और दुर्घटनाओं के लिए सेबास्टियान की आलोचना की जा सकती थी. नेवे ने कहा, "आप शायद ओवरटेक न कर पाने के लिए उनकी आलोचना कर सकते थे. मेरा ख्याल है कि बहुत से लोग मानते थे कि अगर वो पोल पोजिशन से शुरूआत नहीं करते तो वह उतने शानदार नहीं रहते हैं." नेवे के मुताबिक अब ऐसी आलोचना नहीं की जा सकती.

टीम पर भरोसा

शूमाखर ने बेनेटन के साथ दो रेस जीतने के बाद फरारी का दामन थामा था हालांकि उसके बाद उन्हें अगली बार चैम्पियन बनने के लिए पांच साल इंतजार करना पड़ा. फेटल फॉर्मूला वन में अब अपनी जगह जान गए हैं और हो सकता है कि एक दिन ऐसा ही करने के बारे में सोचें लेकिन रेडबुल के मुखिया को यह भरोसा है कि ऐसी घड़ी अभी बहुत दूर है. होर्नर ने कहा, "यह सब कुछ टीम पर है. आपको एक अच्छी टीम और बेहतरीन ड्राइवरों की जरूरत होती है. वह इस वक्त सर्वकालिक बेहतरीनों में है. उनके जैसे बहुत कम हैं लेकिन जरूरत इस बात की भी है कि सब कुछ तालमेल के साथ हो."

फेटल बहुत छोटी उम्र से ही रेडबुल के साथ रहे हैं. ठीक वैसे ही जैसे मैक्लारेन की टीम ने लुईस हैमिल्टन को बहुत कम उम्र से ही अपने साथ लेकर उन्हें तैयार किया. हैमिल्टन पिछले साल मैक्लारेन को छोड़ मर्सिडीज में चले गए लेकिन होर्नर को यकीन है कि उनके ड्राइवर ऐसा नहीं करेंगे, "निश्चित रूप से इसकी कोई गारंटी नहीं लेकिन यह सब करार पर नहीं, यह आपसी रिश्ते पर है." फेटल की लगातार जीत इस भरोसे को मजबूत कर रही है.

एनआर/ओएसजे (रॉयटर्स, एएफपी)

DW.COM