1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

शीला की जवानी सबसे अश्लील गीतः कैटरीना

शीला की जवानी, किसी बी ग्रेड फिल्म का टाइटल लगने वाला ये नाम आइटम सॉन्ग के बाजार में फराह खान का नया शाहकार है. गाने पर डांस किया है कैटरीना कैफ ने और मानती हैं कि ये उनके करियर का सबसे 'अश्लील' गाना है.

default

तीसमार खां में कैटरीना

फराह खान ने पहले ही दावा किया था कि शीला की जवानी अब तक के सारे आइटम नंबरों को पीछे छोड़ देगी. वैसे लोग इस गाने को जिस तरह से भी देखें कैटरीना मानती हैं कि इस गाने पर डांस करके बहुत कुछ सीखने को मिला. कैटरीना के मुताबिक, "मेरे लिये ये एक तरह का सीखने वाला अनुभव रहा. मैं आइटम नंबर वाले गानों को बुरा नहीं मानती. इस गाने में खुलापन है पर उससे भी ज्यादा ये एक तरह का भाव है और मैंने इस पर ज्यादा ध्यान दिया. एक तरह से ये संकोच को हटाकर खुलेपन के साथ नाच भर है." इसके साथ ही कैटरीना ने कहा, "अब तक मैंने जितने गाने शूट किये हैं उनमें ये सबसे अश्लील है."

26 साल की कैटरीना ने इस गाने में खुद को वो रूप दिखाया है जो आमतौर पर नजर नहीं आता. कैटरीना ने बताया कि शीला की जवानी गाने पर डांस करने से पहले डायरेक्टर फराह खान ने उन्हें पुराने फिल्मों की कई डीवीडी दी और उन्हें देखने को कहा. कैटरीना ने कहा," फराह ने मुझे पुरानी डीवीडी डांस का नकल करने के लिए नहीं बल्कि इसलिए दी कि मैं इस तरह के डांस को ठीक से समझ सकूं. चाह कर भी मेरे लिए ये करना मुश्किल था माधुरीजी को डांस करते देख ये महसूस हुआ कि वो इस तरह के गानों पर भी डांस को कितना इंज्वाय करती थी और उनमें किस कदर डूब जाती थीं."

Flash-Galerie Afghanistan Land und Leute Bollywood in Kabul

शीला की जवानी, अक्षय कुमार और कैटरीना कैफ की लीड रोल वाली फिल्म तीसमार खां में है. फिल्म में अनिल कपूर और सलमान खान खास भूमिका में हैं. 24 दिसंबर को रिलीज होने जा रही इस फिल्म का नायक एक अपराधी है जिसकी निडरता और बेशर्मी विख्यात है उसी का नाम है तीसमार खां. फिल्म के बारे में कैटरीना बताती हैं," अक्षय एक अपराधी की भूमिका में हैं और मैं उनकी महबूबा जो फिल्म अभिनेत्री बनना चाहती है. अन्या नाम का ये किरदार फिल्म अभिनेत्री बनने की चाहत में एक बी ग्रेड की फिल्म साइन कर लेती है जिसमें उसका नाम शीला है."

कैटरीना फराह खान के बारे में कहती हैं कि हिरोइन को ग्लैमर गुड़िया के रूप में दिखाने के उनका अपना अलग अंदाज है जिसे और कोई कॉपी नहीं कर सकता.

कैटरीना का मानना है कि अलग अलग तरह की फिल्मों उन्हें अलग किस्म का अनुभव देती हैं. अब चाहे प्रकाश झा की राजनीति हो या फराह का हिरोइनों को ग्लैमरस दिखाने का अलग तरीका सबका अनुभव जुदा है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री