1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

शाही शादी को 7 साल देने वाले बिशप की माफी

एक ब्रिटिश बिशप ने ब्रिटेन के राजकुमार विलियम और उनकी मंगेतर केट मिडलटन के बारे में सोशल नेटवर्किंग वेबसाइटों पर अपमानजनक टिप्पणी करने के बाद माफी मांग ली है. महारानी एलिजाबेथ चर्च ऑफ इंगलैंड की भी मुखिया हैं.

default

ट्विटर और फेसबुक पर की गई टिप्पणियों में चर्च ऑफ इंगलैंड के बिशप पीट ब्रोडबेंट ने कहा था कि राजकुमार विलियम और उनकी मंगेतर केट मिडलटन की शादी सिर्फ सात साल चलेगी.

उत्तरी लंदन में विल्सडेन के बिशप ने शाही परिवार को अय्याश कहे जाने पर अफसोस व्यक्त किया. पिछले सप्ताह अपनी सगाई की घोषणा करने वाले जोड़े को शुभकामनाएं दीं. एक बयान में पीट ब्रोडबेंट ने कहा, "मैंने प्रिंस चार्ल्स और प्रिंस विलियम तथा केट मिडलटन मेरी टिप्पणियों के कारण पैदा पीड़ा और उसके बाद शाही विवाह को मिले मीडिया आकर्षण के लिए हार्दिक अफसोस व्यक्त किया है."

"मैं स्वीकार करता हूं कि मेरी भाषा का लहजा और उसमें कही गई बातें बहुत चोट पहुंचाने वाली थीं और मैं उसके लिए माफी मांगता हूं." मंगलवार को जिस दिन शाही सगाई की घोषणा की गई, ट्विटर पर अपने पोस्ट में ब्रोडबेंट ने लिखा, तय करने की जरूरत है कि वसंत या गर्मियों में मैं किस दिन फ्रांस का रिपब्लिकन दिवस दौरा बुक करूंगा.

Flash-Galerie Prinz William Kate Middleton

डेली मेल में रिपोर्ट की गई टिप्पणियों में बिशप ने कहा कि शाही परिवार पर लोगों का बहुत खर्च होता है. साथ ही शाही परिवार के लोगों को उथली हस्तियां बताया. एक टिप्पणी में उन्होंने कहा, मैं शादी को सात साल देता हूं. एक अन्य में उन्होंने विलियम के माता-पिता प्रिंस चार्ल्स और राजकुमारी डायना को बड़े कानों वाला और चीनी मिट्टी की गुड़िया बताया.

विलियम की दादी महारानी एलिजाबेथ द्वितीय चर्च ऑफ इंगलैंड की सर्वोच्च नेता हैं. ब्रोडबेंट ने अपने बयान में अपनी टिप्पणियों को फैसले की अहम गल्ती बताया और कहा कि वे प्रिंस विलियम और केट मिडलटन की खुशी और आजीवन शादी की कामना करते हैं. प्रिंस चार्ल्स और उनके बेटों विलियम और हैरी के दफ्तर क्लेरेंस हाउस ने कहा है कि वे बिशप की माफी पर टिप्पणी नहीं करेंगे.

विलियम और केट ने अगले साल वसंत या गर्मियों में लंदन में शादी करने की घोषणा की है. शादी की तारीख और जगह की घोषणा इसी सप्ताह किए जाने की संभावना है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: एस गौड़

DW.COM