1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

शरणार्थियों को मारने वाली रिपोर्टर निलंबित

हंगरी के एक प्राइवेट चैनल ने उस कैमरा पर्सन को निलंबित कर दिया है जिसने शरणार्थियों के साथ दुर्व्यवहार किया. यूट्यूब पर फैले वीडियो में उसका बर्ताव देखा जा सकता है.

ये वीडियो हंगरी और सर्बिया की सीमा के हैं. हंगरी से ऑस्ट्रिया और फिर जर्मनी पहुंचने के लिए कई शरणार्थी यह रास्ता लेने पर मजबूर हैं. पुलिस से बचते बचाते ये शरणार्थी अपने परिवारों के साथ सरहद पार करने के लिए भाग रहे हैं. शरणार्थियों की इस भीड़ के इर्द गिर्द पुलिस के अलावा मीडिया की भी भीड़ देखी जा सकती है. हाथ में कैमरा लिए कई रिपोर्टर यह सब रिकॉर्ड कर रहे हैं. इन्हीं में एक है नीले कपड़े पहने एन1टीवी की कैमरा पर्सन.

इसे दो बार भीड़ के साथ बदतमीजी करते देखा गया. एक बार इस कैमरा पर्सन ने गोद में बच्चा उठाए भागते हुए एक आदमी को टांग मार कर गिरा दिया, तो एक बार उसे एक भागती हुई बच्ची को टांगों के बीच लात मारते देखा गया. चैनल ने बयान दिया है, "एन1टीवी की एक कर्मचारी ने रोसके कलेक्शन प्वॉइंट पर अस्वीकार्य बर्ताव किया है. हमने आज उसे नौकरी से निकाल दिया है." हंगरी की न्यूज वेबसाइट 444 ने इस कैमरा पर्सन की पहचान पेट्रा लासलो के रूप में की है.

DW.COM

संबंधित सामग्री