1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

शताब्दी की 9वीं सबसे ताकतवर महिला इंदिरा गांधी

भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को टाइम मैगजीन ने 20वीं शताब्दी की 9वीं सबसे ताकतवर महिला के रूप में चुना. टाइम की लिस्ट में पहला स्थान जेन एडम्स को मिला जिन्होंने महिलाओं को वोटिंग अधिकार दिए जाने की वकालत की.

default

दलाई लामा के साथ इंदिरा गांधी

इंदिरा गांधी के बारे में टाइम मैगजीन ने लिखा, "वह देश की बेटी थीं, अपने पिता जवाहर लाल नेहरु की देखरेख में बड़ी हुईं जो दशकों के ब्रिटिश शासन के बाद भारत के पहले प्रधानमंत्री बने." इंदिरा गांधी को जब 1966 में भारत का प्रधानमंत्री चुना गया तो टाइम मैगजीन ने सुर्खी लगाई थी, "ट्रबल्ड इंडिया इन ए वूमैन्स हैंड" यानी मुश्किलों में घिरे भारत की बागडोर एक महिला के हाथ में.

Mutter Teresa NO FLASH

मदर टेरेसा

टाइम पत्रिका के मुताबिक इंदिरा गांधी ने अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाते हुए मंदी, अकाल, के बिना दो दशकों तक भारत को आगे बढ़ाया और देश में पहला परमाणु विस्फोट भी किया.

इंदिरा गांधी के शासनकाल में ही पाकिस्तान के साथ युद्ध में एक नए राष्ट्र के रूप में बांग्लादेश का जन्म हुआ. इंदिरा गांधी ने 1966 से 1977 तीन बार प्रधानमंत्री रहीं लेकिन फिर आपातकाल के बाद उन्हें सत्ता से हाथ धोना पड़ा. 1980 में हुए चुनावों में वह फिर लौटीं और उनके कार्यकाल के दौरान ही हत्या कर दी गई. एक महिला प्रधानमंत्री के रूप में इंदिरा गांधी का कार्यकाल दुनिया में सबसे ज्यादा रहा है.

अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन को 25 महिलाओं की लिस्ट में छठा स्थान दिया गया है. मदर टेरेसा को पिछली शताब्दी की 22वीं सबसे ताकतवर महिला आंका गया है. इंदिरा गांधी और मदर टेरेसा के अलावा इस लिस्ट में भारतीय उपमहाद्वीप की कोई महिला जगह नहीं बना पाई है. 25 महिलाओं की लिस्ट में मेरी क्यूरी, मैडोना, गोल्डा मायर, अंगेला मैर्केल, इलेनॉर रुजवेल्ट, मार्गरेट थैचर, ओप्रा विन्फ्रे और वर्जीनिया वुल्फ शामिल है.

रिपोर्ट; एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: एन रंजन