1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

शतक से चूके सहवाग, गंभीर भी आउट

दो गेंदों ने खेल पलट दिया है. सहवाग 96 के स्कोर पर बोल्ड हो गए और स्कोर में एक रन भी नहीं जुड़ा कि गंभीर भी चले गए. फिर सचिन और द्रविड़ ने दूसरा दिन बचा ही लिया.

default

वीरेंद्र सहवाग

दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने दो विकेट खोकर 178 रन बना लिए थे. सचिन 11 और द्रविड़ 7 रन बनाकर क्रीज पर हैं.

160 रन तक तो भारत का एक भी विकेट नहीं गिरा था लेकिन इसी स्कोर पर भारत के दो विकेट गिर गए. हालांकि भारतीय ओपनरों ने बढ़िया शुरुआत दी लेकिन वीरेंद्र सहवाग अपने शतक से सिर्फ 4 रन से चूक गए. उन्हें डेनियल वेटोरी ने 96 के स्कोर पर बोल्ड कर दिया. सहवाग ने 15 चौके और एक छक्का लगाया.

गौतम गंभीर ने भी अपना अर्धशतक पूरा किया और फिर पैविलियन लौट गए. उन्हें 54 के स्कोर पर साउदी ने आउट किया. इस तरह दूसरे और तीसरे नंबर के लिए राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर को एकदम नई शुरुआत करनी पड़ी. उन्होंने आराम से खेलते हुए बाकी बचे ओवर निकाल दिए ताकि तीसरे दिन नई शुरुआत की जा सके.

इससे पहले भारतीय ओपनरों ने पारी की धीमी शुरुआत की लेकिन वीरेंद्र सहवाग की ताबड़तोड़ बैटिंग ने पारी का रुख बदल दिया. सहवाग ने बढ़िया अर्धशतक लगाया.

हैदराबाद टेस्ट में स्पिनर हरभजन सिंह की विकेटों की चौकड़ी ने दूसरे दिन लंच के बाद जल्दी ही भारतीय बल्लेबाजों को क्रीज पर उतार दिया. ओपन गौतम गंभीर और वीरेंद्र सहवाग ने टिककर खेलते हुए स्कोर को धीरे धीरे आगे बढ़ाया और 50 का आंकड़ा पार किया.

चाय तक भारत ने बिना कोई विकेट खोए 62 रन बना लिए थे. वीरेंद्र सहवाग ने 30 और गंभीर ने 28 रन बनाए. दोनों ने चार चार चौके लगाए.

इसके बाद सहवाग ने रन बनाने की गति बढ़ाई और अपना अर्धशतक पार कर लिया जबकि गौतम गंभीर दूसरे छोर पर विकेट संभाले रहे.

इससे पहले न्यूजीलैंड की पहली पारी 350 रन पर खत्म हो गई. उसके बल्लेबाजों ने पहले दिन के स्कोर चार विकेट पर 258 रन से आगे खेलना शुरू किया और भारतीय फिरकी के चक्कर में उलझ गए. पहले तेज गेंदबाज जहीर खान ने सुबह की नमी का फायदा उठाते हुए दो विकेट झटके. उन्होंने पहले हॉपकिंस और फिर विलियम्सन को एलबीडबल्यू आउट करके पवेलियन भेजा.

बाकी बचे चारों खिलाड़ियों को हरभजन सिंह ने अपना निशाना बनाया. भज्जी का सबसे महत्वपूर्ण विकेट देर तक जमे रहे जेसी राइडर का रहा जिन्होंने 70 रनों की बढ़िया पारी खेली. उन्हें भज्जी ने लक्ष्मण के हाथों कैच आउट कराया. 70 रनों की अपनी पारी में राइडर ने 10 चौके लगाए.

भारत के लिए हरभजन सिंह और जहीर खान ने चार चार विकेट लिए. एस श्रीशांत और पी ओझा को एक एक विकेट मिला.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links