1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

शतकों के अलावा भी क्रिकेट में बहुत कुछ है

दुनिया भर में क्रिकेट प्रशंसक दम साधे इंतजार कर रहे हैं कि सचिन तेंदुलकर टेस्ट क्रिकेट में अपना 50वां शतक कब जड़ते हैं. लेकिन सचिन के मुताबिक इस कीर्तिमान का इंतजार करने से इतर भी टेस्ट क्रिकेट में बहुत कुछ है.

default

कब आएगी वो घड़ी

सचिन तेंदुलकर दो दशकों से क्रिकेट जगत के शीर्ष पर बने हुए हैं और अब इंतजार इस बात का का है कि टेस्ट क्रिकेट में शतकों का अर्धशतक बनाने का कीर्तिमान वह कब स्थापित करते हैं. लेकिन तेंदुलकर लोगों को सामान्य रहने की सलाह देते हैं. "मेरे 50वें शतक के अलावा भी टेस्ट क्रिकेट में काफी कुछ है. यही सब कुछ नहीं है. मैं अपने देश के लिए अच्छा खेलने में विश्वास करता हूं और फिलहाल न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरिज जीतने पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं."

Indischer Cricketspieler Sachin Tendulkar

सचिन के मुताबिक मीडिया में हो रही चर्चा पर वह ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं. "अखबार में मेरे बारे में क्या लिखा है यह मैं नहीं पढ़ता. आप देख सकते हैं कि होटल में मेरे कमरे के बाहर ही अखबार रखे होते हैं. मैं सिर्फ अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करता हूं. पिछले 21 साल मेरे लिए बेहद खास रहे हैं और मैंने अपने सफर का पूरा आनंद उठाया है." न्यूजीलैंड के खिलाफ हैदराबाद टेस्ट में सचिन ने 13 रन बनाए.

न्यूजीलैंड के साथ श्रृंखला में हरभजन सिंह के शानदार फॉर्म में होने से तेंदुलकर बेहद खुश हैं. भज्जी आठवें नंबर पर खेलने वाले दुनिया के पहले ऐसे बल्लेबाज बन गए हैं जिन्होंने लगातार दो टेस्ट मैचों में शतक लगाया हो.

भज्जी के प्रदर्शन पर तेंदुलकर कहते हैं, "मैंने हमेशा कहा है कि भज्जी शतक जड़ सकते हैं और यह तो पहले ही हो जाना चाहिए था. अहमदाबाद में जब उन्होंने पहली सेंचुरी लगाई तो मैंने उनसे पूछा कि ऐसा करने में इतने साल क्यों लगाए."

हरभजन सिंह ने हैदराबाद टेस्ट की पहली पारी में नाबाद 111 रन बनाए और श्रीसंत के साथ दसवें विकेट के लिए 105 रन की रिकॉर्ड साझेदारी की. दोनों के शानदार प्रदर्शन से भारत को पहली पारी में न्यूजीलैंड से 122 रन की बढ़त मिली.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: एन रंजन

DW.COM