1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

व्हेल के शिकार के खिलाफ जापान से भिड़ा ऑस्ट्रेलिया

व्हेल मछली के शिकार के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने जापान के खिलाफ कानूनी कदम उठाया. ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय से व्हेल का शिकार बंद करने की मांग की. जापान सरकार ने तीखी नाराजगी जताई.

default

जापान में ह्वेल का शिकार

प्रशांत महासागर में जहाज से जरिए व्हेल मछलियों का शिकार करने पर भड़के ऑस्ट्रेलिया ने जापान के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में अपील की है. ऑस्ट्रेलिया ने मांग की है कि जापान को तुरंत अतंरराष्ट्रीय व्हेलिंग आयोग के नियम मानने को कहा जाए.

जापान

Walfang Flash-Galerie

ह्वेल शिकार जापान की परंपरा

ने ऑस्ट्रेलिया के इस कदम की निंदा की है. जापान सरकार के वरिष्ठ प्रवक्ता हिरोफूमी हिरानो ने कहा, ''यह एक अत्यधिक निदंनीय कदम है. जापान सरकार इससे पूरे कायदे से निपटेगी.'' मछलियों के शिकार से जुड़ी जापानी संस्था के अधिकारी ने कहा, ''हमें जानकारी मिली है कि ऑस्ट्रेलिया ने हमारे खिलाफ अंतरराष्ट्रीय अदालत में मुकदमा दर्ज किया है.''

जापान और ऑस्ट्रेलिया में बड़े पैमाने पर व्हेल मछलियों का शिकार होता रहा है. दोनों देशों के जहाज प्रशांत महासागर में बड़े कांटों की मदद से सतह पर तैरती व्हेल मछलियों का शरीर भेदते हैं. फिर जहाज की ताकत की मदद से घायल व्हेल को खींच कर ऊपर लाया जाता है. इसके बाद व्हेल का मांस और तेल बेचा जाता है.

लेकिन व्हेल के शिकार को नियंत्रित करने वाले अंतरराष्ट्रीय व्हेलिंग आयोग का कहना है कि बढ़ते शिकार की वजह से व्हेल मछलियां खत्म भी हो सकती है. ऑस्ट्रेलिया हाल ही में कह चुका है कि वह व्हेल का शिकार बंद करेगा. लेकिन साथ ही ऑस्ट्रेलिया का आरोप है कि जापान की हरकतों की वजह से बड़ी मछलियों के शिकार से समुद्री जीवों के पूरे तंत्र पर ख़तरनाक प्रभाव पड़ रहा है. जापान इन आरोपों के जवाब में कहता रहा है कि व्हेल का शिकार करना उसकी परंपरा का हिस्सा है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: उज्ज्वल भट्टाचार्य

संबंधित सामग्री