1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

वोट से तय होगा बुलफाइट का भविष्य

सांड से लड़ाई का खूनी खेल इक्वेडोर में रहेगा या खत्म कर दिया जाएगा, इसका फैसला जनमत संग्रह से कराया जाएगा. राष्ट्रपति रफाएल कोरेया ने जनमत संग्रह का एलान करते हुए लोगों से कहा कि खेल के भविष्य पर फैसला करें.

default

राष्ट्रपति कोरेया ने इस खेल को हिंसा का भौंडा प्रदर्शन कहा है. उन्होंने कहा, "राष्ट्रपति के महल के बार हजारों नौजवानों ने इस खेल के खिलाफ प्रदर्शन किया. लेकिन हम इक्वेडोर के लोगों से भी जानना चाहेंगे कि वे ऐसे खेल के बारे में क्या सोचते हैं जिनमें जानवरों पर बेतहाशा जुल्म किया जाता है."

Pamplona Stierkampf Stier Hatz

फिलहाल जनमत संग्रह की तारीख तय नहीं की गई है. लेकिन राष्ट्रपति ने कहा कि संविधान में सुधार को लेकर होने वाले जनमत संग्रह में ही बुलफाइट को भी शामिल किया जाएगा.

इक्वेडोर में शुक्रवार को सुरक्षा और गृह मंत्रालय के लिए नए मंत्रियों को शपथ दिलाई गई. इस समारोह में कोरेया ने बुलफाइटिंग की आलोचना की और कहा कि वे जानवरों पर बेतहाशा जुल्म ढाते हैं. उन्होंने कहा कि यह इक्वेडोर के लोगों को तय करना है कि 21वीं सदी में देश को हिंसा के इस भौंडे प्रदर्शन से छुटकारा मिलना चाहिए या नहीं.

बुलफाइटिंग यानी सांड से लड़ाई का यह खेल दक्षिण अमेरिका में स्पेन की साम्राज्यवादी ताकतें लेकर आईं. धीरे धीरे यह

No-Flash Stierkämpfer

खेल पेरू, इक्वेडोर, कोलंबिया, वेनेजुएला और मेक्सिको में काफी लोकप्रिय हो गया. मेक्सिको में तो लोग इस खेल के दीवाने हैं. वहां बुलफाइटिंग का सबसे बड़ा स्टेडियम है जिसमें 48 हजार लोग बैठ सकते हैं.

खेल के जनक स्पेन में मैड्रिड का वेनता स्टेडियम तो उसका आधा ही बड़ा है. जुलाई में देश के उत्तरपूर्वी क्षेत्र में कैटालोनिया ने बुलफाइटिंग पर प्रतिबंध लगा दिया. ऐसा करने वाला वह पहला राज्य बना. यह फैसला एक याचिका के जरिए हुआ जिस पर एक लाख 80 हजार लोगों ने दस्तखत करके प्रतिबंध का समर्थन किया.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links