1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वोटिंग में ब्रैडमैन से आगे सचिन

उनके नाम में भले ही डॉन हो लेकिन क्रिकेट का डॉन तो सचिन ही है. ब्रैडमैन के देश ऑस्ट्रेलिया में दोनों खिलाड़ियों के बीच वोटिंग चल रही है और सचिन तेंदुलकर आगे हैं. अखबार की सदा चली आ रही बहस को जनता से तय कराने की कोशिश.

default

सबसे आगे सचिन

सेंचुरियन पार्क पर सचिन के 50वें शतक के बाद सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड ने जनता से सवाल पूछा है, "अब तक का सबसे बड़ा बल्लेबाज कौनः सचिन तेंदुलकर या डॉन ब्रैडमैन." अब तक 1600 से ज्यादा क्रिकेट प्रेमियों ने इस ऑनलाइन सवाल पर जवाब भेजा है और पिछले सदी के महान बल्लेबाज सर डोनाल्ड ब्रैडमैन को सिर्फ 37 फीसदी वोट मिले हैं. सचिन को 63 फीसदी लोगों ने ब्रैडमैन से आगे माना है. हालांकि वोटिंग अभी चल रही है लेकिन फासला बहुत बड़ा है.

Australien Sport Cricket Donald Bradman

क्रिकेट के पितामह डॉन ब्रैडमैन

अखबार में कई लोगों ने पूछा है कि लिटिल मास्टर और ब्रैडमैन अलग अलग दौर के क्रिकेट खिलाड़ी हैं और क्या उनमें तुलना की जा सकती है. क्रिकेट पत्रकार डेनियल लेविस का कहना है, "उनकी (तेंदुलकर) महानता बढ़ती ही जा रही है. और अब 50वें टेस्ट सेंचुरी लगा कर उन्होंने इस बहस को एक बार फिर सुलगा दिया है कि कौन बड़ा बल्लेबाज है. क्या 37 साल के सचिन तेंदुलकर या फिर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन."

उन्होंने लिखा, "तेंदुलकर ने पहली बार भारत का प्रतिनिधित्व 16 साल की उम्र में किया और अब भी शानदार ढंग से बल्लेबाजी कर रहे हैं. उन्होंने अपने नौवें टेस्ट मैच में 1990 में ओल्ड ट्रैफर्ड में पहला शतक बनाया. उनका 50वां शतक उनके 175वें टेस्ट में बना है, और अब वे रिकी पोंटिंग से 11 शतक आगे हो चुके हैं. उन्होंने एक सिंगल रन बना कर शतक पूरा किया और इसे अपने पिता को समर्पित कर दिया."

Flash-Galerie Religiöses Ritual in Indien

लेविस का कहना है कि दो सबसे महान बल्लेबाजों में तुलना आंकड़ों के आधार पर नहीं की जा सकती है. लेविस के मुताबिक, "डॉन ब्रैडमैन ने 80 पारियों में 29 शतक लगाए. इसका मतलब हर 2.76 पारी पर एक शतक. अगर तेंदुलकर के 50 शतक देखें तो ये 286 पारियों में बने हैं यानी हर 5.72 पारी में. इसके बाद बल्लेबाजी औसत. ब्रैडमैन के नाम 99.94 रन का औसत है, जो क्रिकेट में एक अद्भुत रिकॉर्ड है, जबकि सचिन का टेस्ट औसत 56.89 रन का है."

लेख में कहा गया है, "ब्रैडमैन ने सिर्फ दो देशों में टेस्ट मैच खेला है, तेंदुलकर ने 10 देशों में. ब्रैडमैन ने ऐसे वक्त में क्रिकेट खेला, जब दुनिया युद्ध की त्रासदी से पस्त थी. तेंदुलकर ऐसे वक्त में खेल रहे हैं, जब एक अरब लोग उनकी तरफ उम्मीद भरी नजरों से देखते हैं. दोनों के बल्ले बिलकुल अलग अंदाज के हैं और ब्रैडमैन ने कभी भी सीमित ओवरों का क्रिकेट नहीं खेला. जबकि सचिन ने भारत के लिए 442 वनडे मैच खेल लिए हैं."

सेंचुरियन पार्क पर सचिन को 50वां शतक बनाते हुए देखने वाले दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान केपलर वेसेल्स का कहना है कि मॉडर्न क्रिकेट में सचिन सबसे बड़े बल्लेबाज हैं. वेसेल्स ने कहा, "आधुनिक काल में, वह निश्चित तौर पर सबसे अच्छा बल्लेबाज है. उसके बराबर कोई नहीं है."

भारत के पूर्व कोच ग्रेग चैपल का कहना है कि सचिन तेंदुलकर को किसी तरह के दिशा निर्देश की कभी जरूरत ही नहीं पड़ती है. हालांकि ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज चैपल अपने देश के ब्रैडमैन को ही सबसे बड़ा बल्लेबाज मानते हैं. उनका कहना है, "मानसिक संतुलन रखने में सचिन का जवाब नहीं लेकिन सबसे बड़े बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन हैं."

रिपोर्टः पीटीआई/ए जमाल

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links