1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

वेनिस में जरा हट कर फिल्में

सागर किनारे लिडो थिएटर में अंतरिक्ष, सितारे और वर्जित सेक्स की कहानियों के साथ दो डॉक्यूमेंट्री और 20 फिल्मों की मुकाबले की बिसात बिछ गई है. वेनिस का फिल्मी मेला लाल कालीन बिछाए सितारों का स्वागत करने को तैयार है.

मेक्सिकन फिल्म निर्देशक अल्फोंसो क्यूएरॉन की सांड्रा बुलॉक और जॉर्ज क्लूनी से सजी ग्रैविटी के वर्ल्ड प्रीमियर से वेनिस फिल्म फेस्टिवल की शुरुआत हो रही है, हालांकि यह फिल्म पुरस्कारों की दौड़ में नहीं है. अगले दो हफ्ते दुनिया भर के फिल्मकारों की नजरें वेनिस पर टिकी होंगी. 1932 में शुरू हुआ यह फिल्म समारोह पूरे दमखम और शानोशौकत के साथ 70वीं बार होने जा रहा है.

इस साल गोल्डन लायन के लिए मुकाबले की दौड़ में एलियन बनी स्कारलेट जोहानसन वाली अंडर द स्किन, जैक एफ्रॉन वाली पार्क लैंड, और मैट डेमन वाली द जीरो थ्योरियम भी है. निकोलस केज जो में दिखेंगे तो जूडी डेंच फिलोमेना में. मेले में एक सितारा राजनीति के मैदान से भी आ रहा है. इराक युद्ध के दौरान अमेरिकी रक्षा मंत्री रहे डोनाल्ड रम्सफेल्ड एक डॉक्यूमेंट्री में दिखेंगे. द अननोन नोन नाम की यह डॉक्यूमेंट्री उन खतरों के बारे में बताती है जिन्हें हम जानते हैं और जिन्हें नहीं जानते. रम्सफेल्ड ने इसमें कोई रहस्य नहीं खोला है लेकिन फिल्म के प्रमोटर चार्ल्स मैकडोनल्ड का कहना है, "यह उस शख्स पर एक शानदार नजर है. यह मनवाने वाली चीज है, बिल्कुल."

Vorbereitungen zum 65 Filmfestival von Venedig

फिल्माने की लिहाज से सबसे कठिन विषय का पुरस्कार 21वीं सदी में लोगों को जगाने वाले जेम्स फ्रैंको को मिलने जा रहा है. कॉरमैक मैकार्थी के उपन्यास चाइल्ड ऑफ गॉड पर बनी फिल्म एक ऐसे शख्स के बारे में है जो महिलाओं के शव के साथ सेक्स करने की सोच से रोमांचित होता है.

कान और बर्लिन के साथ दुनिया के तीन सबसे बड़े फिल्मी मेलों में एक वेनिस अपनी इस छवि से मुक्ति पाना चाहता है कि एग्जिबिटर्स के लिए यह एक महंगी जगह है. मुकाबले की दौड़ में इटली डॉक्यूमेंट्री सैक्रो ग्रा के साथ मौजूद है. यह रोम के रिंग रोड के इर्द गिर्द बिखरी जिंदगी के बारे में है. इसके अलावा एक और डॉक्यूमेंट्री भी है जो एक ऐसे बेरोजगार के बारे में है, जो नौकरी से गैरहाजिर रहने वाले लोगों की जगह काम करता है.

भारत की तरफ से सुभाशीष भूतियानी की कुश है जो शॉर्ट फिल्मों की श्रेणी में है. लोगों की नजर वैसे इस्राएली निर्देशक अमोस गिताई की एना अरबिया पर भी है जो तेल अवीव के बाहरी हिस्से में साथ रह रहे यहूदी और अरब लोगों के एक छोटे समुदाय में जाने वाली एक युवा महिला पत्रकार की कहानी है. गिताई 1973 के अरब इस्राएल जंग में शामिल थे और उनका हेलिकॉप्टर सीरियाई मिसाइल का निशाना बना था. देश के बाहर तो उनका बड़ा सम्मान है लेकिन जातीय और धार्मिक मुद्दों को उठाने की वजह से अपने देश में उन्हें काफी आलोचना झेलनी पड़ी है. चीनी निर्देशक साई मिंग लियांग की स्ट्रे डॉग्स की भी खूब चर्चा बटोर रही है.

फेस्टिवल की ज्यूरी का नेतृत्व दिग्गज इतालवी फिल्म निर्देशक बर्नार्डो बर्टोलूची के हाथ में है. बर्टोलूची ने मार्लिन ब्रांडो और मारिया श्नाइडर के साथ 1972 में लास्ट टैंगो इन पैरिस बना कर ख्याति पाई थी.

एनआर/एजेए (रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री