1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

वीडियो: हैपी मदर्स डे

इस वीडियो को यूट्यूब में 1.8 करोड़ से भी ज्यादा बार देखा जा चुका है. मदर्स डे पर यह खास है क्योंकि यह मां और बच्चे के खास बंधन को दर्शाता है.

पश्चिम से आए कई तरह के दिनों का भारतीय संस्कृति के नाम पर विरोध होता है, फिर चाहे वह वैलेनटाइंस डे हो या फिर वुमेंस डे. लेकिन मां की ममता के आदर में एक दिन मनाने पर शायद ही किसी को आपत्ति हो. मदर्स डे की शुरुआत कब और कहां से हुई, इस पर तो कई किस्से कहानियां मौजूद हैं. कोई कहता है कि यह ग्रीस से आया, तो कोई इंग्लैंड का किस्सा सुनाता है.

बहरहाल यह तो तय है कि भारत तक यह वैश्वीकरण के बाद ही पहुंचा. हर साल मई के दूसरे रविवार को यह मनाया जाता है.

इस वीडियो में देखिए कि कैसे आंखें बंद कर के भी हर बच्चा अपनी मां को पहचान लेता है. एक छोटे से प्रयोग के तहत छह महिलाओं और उनके बच्चों को साथ लाया गया. बच्चों की आंखों पर पट्टी बांधी गयी और उनसे अपनी मां को ढूंढने के लिए कहा गया. आगे क्या हुआ, देखिए इस वीडियो में.

DW.COM

संबंधित सामग्री