1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

वीडियो: स्टील को काटता पानी

स्टील की मोटी दीवार पर अगर पानी की अथाह तेज धार पड़ेगी तो क्या होगा. स्टील के टुकड़े हो जाएंगे. यकीन न आए तो खुद देख लीजिए.

लकड़ी और पत्थर तो मामूली चीजें हैं, वॉटरजेट कटर के लिए बेहद कड़ी धातु स्टील और टाइटेनियम भी कुछ नहीं हैं. 1560 के दशक में खोजी गई वॉटरजेट तकनीक को अब कटिंग के लिए जगह जगह इस्तेमाल किया जा रहा है.

असल में इस तकनीक में बहुत ही बारीक सुराख से हर मिनट सैकड़ों लीटर पानी निकलता है. पानी का दबाव इतना तेज होता है कि वो सामने आने वाली हर चीज को काट देता है. वॉटरजेट से अब स्टील और टाइटेनियम जैसी धातुएं भी काटी जा रही है.

आपने पानी की तेज धार से गाड़ियों की धुलाई या फिर भीड़ को तितर बितर करने के लिए इस्तेमाल होने वाला वॉटरकैनन देखा होगा. बस सोचिये कि उससे भी सैकड़ों गुना तेज रफ्तार से पानी की बेहद पतली धार निकले. उस पानी में बहुत बारीक और नुकीले धातु या रेत के कण हों. कटिंग के लिए इस्तेमाल होने वाली वॉटरजेट तकनीक इसी सिद्धांत पर काम करती है.

इस तकनीक का धातु और खनन उद्योग में खूब इस्तेमाल होता है. लेजर कटर के उलट पानी काटी जाने वाली चीज को नुकसान नहीं पहुचाता है. वॉटरजेट कटिंग में गर्मी पैदा नहीं होती है.

DW.COM

WWW-Links