वीडियो: ड्रोन से ज्वालामुखी का अद्भुत नजारा | विज्ञान | DW | 13.05.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

वीडियो: ड्रोन से ज्वालामुखी का अद्भुत नजारा

700 से 1,200 डिग्री गर्म और सुर्ख नारंगी रंग के लावे तक इंसान बमुश्किल जा सकता है. लेकिन उड़ती हुई मशीनें प्रकृति के इस खेल को खूबसूरती से सामने ला रही हैं.

ज्वालामुखियों के लिए मशहूर आइसलैंड में समय समय पर लावे की विशाल नदियां बहती हैं. इस बहते लावे के संपर्क में आने वाली हर चीज भस्म हो जाती है. अब तक इन नदियों के बारे में सुना और पढ़ा तो गया था, लेकिन उनके बहाव को किसी ने देखा नहीं था. अब कैमरों से लैस ड्रोन इस छुपे नजारे को सामने ला रहे हैं.

 

डेढ़ से दो किलोमीटर की ऊंचाई पर उड़ने के बाद ड्रोन जब वापस जमीन पर आते हैं तो लावे की तपिश उन पर महसूस की जा सकती है. सैकड़ों मीटर दूर बैठा इंसान इन ड्रोनों को उड़ाता है.

यही लावा कई किलोमीटर बहने के बाद समंदर में गिरता है. समंदर में लावे के गिरने से काफी भाप निकलती है जो बादल बनाती है. वहीं ठंडा लावा समंदर के किनारे चट्टानों में बदलने लगता है.

(कितना जानते हैं आप ज्वालामुखी के बारे में)

ओएसजे/आरपी

 

DW.COM