1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

वीडियो: छुपे रुस्तम निकले प्रधानमंत्री

आपको पता है कि क्वांटम कंप्यूटर क्या होता है? अगर कोई प्रधानमंत्री से प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसके बारे में पूछ दे तो क्या उम्मीद करेंगे? शायद यही कि प्रधानमंत्री को क्या पता होगा, लेकिन कनाडा के प्रधानमंत्री कुछ अलग हैं.

राजनेताओं और पत्रकारों का द्वंद्व पुराना है. हाल में एक पत्रकार ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो से व्यंग में क्वांटम कंप्यूटिंग के बारे में पूछ लिया. सोचा होगा कि प्रधानमंत्री को थोड़े ही पता होगा भविष्य की तकनीक के बारे में. लेकिन उनकी कैबिनेट में भारत से ज्यादा सिख हैं जैसे अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाले ट्रूडो ने प्रेस कॉन्प्रेस में उपस्थित पत्रकारों और वैज्ञानिकों का मन मोह लिया. आप भी देखिए प्रधानमंत्री का जलवा इस वीडियो में.

ब्रिटिश कोलंबिया यूनिवर्सिटी से शिक्षाशास्त्र में बीए की डिग्री लेने वाले ट्रूडो ने कुछ सालों तक वैंकूवर में शिक्षक का काम किया जहां वे स्कूल में बच्चों को फ्रेंच और गणित सिखाते थे. कुछ सालों तक एडवोकेसी ग्रुपों में काम करने के बाद उन्होंने राजनीति में गोता मारने की सोची और उन्हीं के शब्दों में उनकी राजनीतिक दीक्षा पापिनो के एक ग्रोसरी स्टोर के बाहर शुरू हुई जहां से उन्होंने अपनी लिबरल पार्टी के लिए सदस्यता अभियान चलाकर तीन महीने बाद वहां से संसदीय चुनावों में उम्मीदवार बनने का हक जीता. कुछ ही सालों के राजनीतिक अनुभव के बाद उनकी पार्टी बहुमत से संसदीय चुनाव जीती और वे अब देश के लोकप्रिय प्रधानमंत्री हैं.

विकास की उनकी अवधारणा को मतदाताओं का समर्थन तो मिला ही है उन्होंने भी उसे अमली जामा पहनाया है. देश के इतिहास में पहली बार उनकी कैबिनेट में पुरुष और महिला मंत्रियों का अनुपात आधा आधा है. आबादी की ही तरह. फरवरी 2016 में सीरिया के 25,000 शरणार्थियों को स्वीकार कर उन्होंने दुनिया को दिखाया कि उदारवादी समाज कैसा हो सकता है. और शरणार्थियों का स्वागत करने एयरपोर्ट जाकर उन्होंने नेतृत्व का परिचय दिया. दिमागों में बदलाव की प्रक्रिया इस तरह शुरू की जाती है.

संबंधित सामग्री