1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

विवादित रेडियो शो बंद

ब्रिटेन के शाही घराने की जानकारी पाने के लिए फर्जी कॉल करने वाले रेडियो शो को पूरी तरह बंद कर दिया गया है. ऑस्ट्रेलिया के दो रेडियो जॉकी ने ऐसा किया था, जिसके बाद भारतीय मूल की एक नर्स ने आत्महत्या कर ली.

ब्रिटिश राजकुमार विलियम और उनकी गर्भवती पत्नी कैथरीन से जुड़े इस मामले के बाद ऑस्ट्रेलियाई रेडियो ने सोमवार को एलान किया कि इस शो को हमेशा के लिए बंद कर दिया गया है. कॉल करने वाले दो रेडियो जॉकी को ऑस्टेरियो ने पहले ही किनारे कर दिया था. उन्होंने राजघराने के सदस्य बन कर फर्जी कॉल किया था ताकि उन्हें कैंब्रिज के अस्पताल में इलाज करा रही राजकुमार विलियम की पत्नी के बारे में जानकारी मिल सके. दोनो रेडियो जॉकी फोन पर खुद को महारानी एलिजाबेथ और प्रिंस चार्ल्स बता रहे थे.

इस घटना के तीन दिन बाद वह नर्स मृत पाई गई, जिसने इनका कॉल अस्पताल के अंदर ट्रांसफर किया था. भारतीय मूल की नर्स जसिंदा सल्धाना की मौत के बाद इन रेडियो पत्रकारों पर काफी दबाव बन गया था. मेल ग्रेग और मिशेल क्रिस्टियान नाम के इन पत्रकारों ने सार्वजनिक तौर पर माफी भी मांगी. हालांकि इन लोगों को भी भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. उन्हें कई जगह से टेलीफोन कॉल आ रहे हैं और उनका दावा है कि इनमें उन्हें जान से मारने की धमकी भी मिल चुकी है.

ऑस्ट्रेलियाई रेडियो ने इस घटना के बाद इनके शो "हॉट 30" को बंद कर दिया था. अब सोमवार को रेडियो ने एलान किया कि इसकी जगह "द बंप" नाम का कार्यक्रम शुरू किया जाएगा. हालांकि रेडियो ऑस्टेरियो की एक प्रवक्ता ने बताया, "मेल और मिशेल दोनों अभी भी कंपनी में काम कर रहे हैं और वे फिलहाल छुट्टी पर हैं." रेडियो के प्रमुख राइस हॉलेरन ने कहा है कि उनकी कंपनी इन दोनों के संपर्क में है. उन्होंने कहा, "हम देख रहे हैं कि वे दोनों किस वक्त काम पर लौट सकते हैं. इसके लिए सही वक्त का इंतजार किया जा रहा है ताकि उनके टैलेंट के मुताबिक उन्हें काम दिया जा सके."

ऑस्टेरियो ने सल्धाना के परिवार वालों को मदद देने के लिए पांच लाख ऑस्ट्रेलियाई डॉलर जुटाने का वादा किया है. मृत नर्स की भारत में उनके पैतृक गांव में अंतिम संस्कार कर दिया गया है. नर्स की मौत की जांच चल रही है. रिपोर्ट है कि उन्होंने किंग जॉर्ज अस्पताल के स्टाफ क्वार्टर में छत से लटक कर जान दे दी. उनके शरीर के आस पास कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली है, जिससे हत्या का शक पैदा हो.

सल्धाना ने तीन नोट छोड़े हैं, जिनमें से एक में उन्होंने अस्पताल के सहकर्मियों की शिकायत की है. उनका कहना है कि उनके सहकर्मी उनके साथ अच्छा व्यवहार नहीं कर रहे हैं. ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने मामले की जांच शुरू कर दी है. स्कॉटलैंड यार्ड भी इस मामले की जांच कर रहा है, हालांकि ऑस्ट्रेलियाई अधिकारियों का कहना है कि इस बात की संभावना नहीं है कि दोनों पत्रकारों को मुकदमे का सामना करना पड़े.

एजेए/ओएसजे (एएफपी)