1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

वियतनाम के साथ रिश्ते सुधारने में लगे ओबामा

करीब आधी सदी से भी ज्यादा समय से वियतनाम पर लगे अमेरिकी प्रतिबंधों को हटा कर ओमाबा ने रखी नये रिश्तों की बुनियाद.

कम्युनिस्ट देश वियतनाम की तीन-दिवसीय यात्रा पर गए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने सोमवार को हथियारों की बिक्री से संबंधित प्रतिबंध हटाने की घोषणा की. करीब 50 सालों से वियतनाम पर लगे इस बैन को हटाया जाना एक बेहद महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है. ओबामा की विदेश नीति में प्रशांत माहासागर क्षेत्र में वियतनाम की अहम भूमिका है. वियतनाम युद्ध के बाद से ओबामा इस देश की यात्रा करने वाले अमरीका के तीसरे राष्ट्रपति हैं.

दोनों देशों के बीच हुए युद्ध को पीछे छोड़ने के संकेत देते हुए ओबामा ने अपनी पहली वियतनाम यात्रा पर 1984 से लगे प्रतिबंध को पूरी तरह हटा दिया. इसे हटाया जाना वियतनाम में मानवाधिकारों के क्षेत्र में हुए सुधारों को मान्यता देने के तौर पर देखा जा रहा है. ओबामा ने कहा, "इस समय दोनों पक्षों के बीच, सेनाओं के बीच, भरोसे और सहयोग का ऐसा स्तर आ चुका है, जो साझे हितों और परस्पर सम्मान पर आधारित है." ओबामा ने आगे कहा कि वियतनाम को बेचे जाने वाले हर हथियार पर ध्यान रख जाएगा, जिससे "खुद को सुरक्षित रखने की वियतनाम की जरूरत के सभी उपकरण उसे मिल सकें और शीत युद्ध के बचे खुचे निशान मिट सकें."

प्रशांत महासागर क्षेत्र के अमेरिका के सहयोगी देशों के साथ संबंध सुधारने की कोशिश में वियतनाम काफी महत्वपूर्ण है. दुनिया के प्रमुख पानी के रास्तों में से एक दक्षिण चीन सागर के विवादित क्षेत्र में अपना दावा मजबूत करने वाले चीन का मुकाबला करने में वियतनाम अहम भूमिका निभा सकता है. इस बात पर जोर देते हुए ओबामा ने कहा कि अमेरिका और वियतनाम को कई समुद्री मुद्दों पर, खास कर साउथ चाइना सी में आवाजाही की आजादी को बरकरार रखने जैसे कई आपसी चिंताओं को दूर करने पर काम करना है. हालांकि ओबामा ने साफ किया कि अमेरिका क्षेत्रीय सीमा विवादों में पक्ष नहीं लेता लेकिन वह अंतरराष्ट्रीय नियमों के अनुसार किसी कूटनैतिक समाधान के पक्ष में है.

Vietnam Besuch US-Präsident Barack Obama

वियतनामी राष्ट्रपति त्रान दाइ क्वांग के साथ ओबामा

प्रशांत महासागर क्षेत्र में तेजी से आक्रामक रवैया लेते चीन का मुकाबला करने में वियतनाम को इस प्रतिबंध के हटने से मनोवैज्ञानिक बढ़त मिलेगी. वियतनाम के राष्ट्रपति त्रान दाइ क्वांग ने "पहले दुश्मन अब दोस्त" बन चुके अमेरिका के साथ सुरक्षा और व्यापार के क्षेत्र में हुए इन सुधारों की प्रशंसा करते हुए देश में और अमेरिकी निवेश करने का आह्वान किया.

वहीं कई अमेरिकी सांसद और एक्टिविस्ट चाहते हैं कि प्रतिबंधों में छूट देने से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति वियतनाम के कम्युनिस्ट नेतृत्व को 100 से अधिक राजनैतिक कैदियों को रिहा करने को कहें. दोनों देशों के बीच मानवाधिकारों के मुद्दे पर असहमतियां बरकरार हैं, लेकिन ओबामा ने इसमें कुछ सुधार दिखने की बात कही है.

तीन दिन के वियतनाम दौरे के बाद ओबामा जापान जाएंगे. वहां एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में हिस्सा लेने के अलावा वह हिरोशिमा जाने वाले हैं. 1945 में वहां गिराए गए अमेरिकी परमाणु बम के कारण एक लाख 40 हजार लोगों की जान चली गई थी. तब से अब तक कोई भी अमेरिकी राष्ट्रपति पद पर रहते हुए वहां नहीं गया है.

DW.COM

संबंधित सामग्री