1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

"विधायक को फांसी पर लटका दो"

चोरी के झूठे आरोपों में एक महीना जेल में रहने के बाद रिहा हुई बलात्कार की पीड़ित दलित लड़की का कहना है कि बीएसपी विधायक को फांसी पर लटका देना चाहिए. लड़की ने पुलिस पर मार पिटाई के भी आरोप लगाए.

default

उत्तर प्रदेश के बांदा जिले की इस किशोरी ने बीएसपी के विधायक पुरुषोत्तम नरेश द्विवेदी पर बलात्कार के आरोप लगाए गए हैं. आरोप लगाने के बाद उसे चोरी के झूठे आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया. रविवार को मुख्यमंत्री मायावती के निर्देश पर उसे रिहा किया गया. रिहाई के बाद 17 वर्षीय लड़की ने कहा, “मैं चाहती हूं कि उसे फांसी पर लटका दिया जाए.”

पीड़ित लड़की ने कहा कि पुलिस ने विधायक के भाई की मौजूदगी में उसकी पिटाई की. उसकी रिहाई के लिए इलाहाबाद हाई कोर्ट ने आदेश दिए थे. हाईकोर्ट ने कहा कि लड़की को बिना किसी शर्त के फौरन रिहा किया जाए और उसे और उसके परिवार को समुचित सुरक्षा दी जाए. लड़की को विधायक के घर से चोरी करने के आरोप में 12 दिसंबर को गिरफ्तार किया गया.

इससे पहले सीबी-सीआईडी की जांच में पता चला कि लड़की पर लगाए गए आरोप गलत हैं. जांच एजेंसी ने लड़की को गिरफ्तार करने वाले पुलिसवालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की सिफारिश की है. फिलहाल सब इंस्पेक्टर जब्बार अहमद को निलंबित कर दिया गया है. लड़की का कहना है कि वह अब भी डर के साए में जी रही है. उसने कहा, “मुझे बहुत डर लग रहा है. मैं चाहती हूं कि मुझे रहने के लिए एक सुरक्षित जगह दी जाए.”

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links