1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड चैंपियन होने के हक़दार हैं: कॉलिंगवुड

तीन बार वर्ल्ड कप और एक बार चैंपियंस ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में पहुंच कर भी हारने वाली इंग्लैंड ने आख़िरकार वर्ल्ड टाइटल जीता. कॉलिंगवुड ने कहा टीम जीत की हक़दार है. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने भी बधाई दी.

default

इंग्लैंड के कप्तान पॉल कॉलिंगवुड

पॉल कॉलिंगवुड टीम ने ट्वेंटी20 वर्ल्ड कप में टीम का नेतृत्व किया क्योंकि एंड्रयू स्ट्रॉस ने वर्ल्ड कप में नहीं खेलने का फ़ैसला किया था. कॉलिंगवुड 2005 और 2009 में एशेज़ सीरिज़ जीतने वाली इंग्लैंड टीम का हिस्सा रह चुके हैं.

रविवार को ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ फ़ाइनल मैच में विजयी रन उन्हीं के बल्ले से निकला और कॉलिंगवुड इसकी अहमियत जानते हैं. 50-50 ओवर के वर्ल्ड कप में इंग्लैंड तीन बार फ़ाइनल में पहुंचा है (1979, 1987, 1992) और तीनों बार उसे हार का मुंह का देखना पड़ा है.

Kricket Australien England

साइडबॉटम

2004 में चैंपियंस ट्रॉफ़ी में भी इंग्लैंड की टीम फ़ाइनल में पहुंच कर जीत से वंचित रह गई थी. यानी बेहतरीन प्रदर्शन करने के बावजूद इंग्लैंड टाइटल जीतने से दूर रह जाती पर इस बार कॉलिंगवुड के नेतृत्व में इंग्लैंड ने इस सिलसिले को तोड़ ही दिया.

मैच के बाद समारोह में कॉलिंगवुड ने कहा कि यह पहली बार है जब उन्होंने वर्ल्ड कप जीता है और इंग्लैंड की टीम इसकी हक़दार है. वैसे अगर इंग्लैंड के ट्वेंटी20 मैचों में रिकॉर्ड पर नज़र डालें तो उम्मीद कम ही थी कि इस बार वेस्ट इंडीज़ में जीत का सेहरा उसके सिर बंधेगा. लेकिन कीज़वैटर, माइकल लुम्ब ने इंग्लैंड को कई मैचों में अच्छी शुरुआत दी और इसने काफ़ी फ़ायदा पहुंचाया.

"हमारी टीम में कई अच्छे खिलाड़ी हैं और पिछले साल से हम पूरे समर्पण और अनुशासन के खेल रहे हैं. इसी का नतीजा और पिच पर दिखाई देने लगा है. टीम में आत्मविश्वास भरा है और इसकी झलक आपको मैदान में मिल जाएगी. जिस तरह की मानसिक मज़बूती के साथ हम बल्लेबाज़ी, गेंदबाज़ी और फ़ील्डिंग कर रहे हैं उससे हम मज़बूत होकर उभरे हैं."

फ़ाइनल में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया की पारी पर बहुत जल्द ब्रेक लगा दिए थे लेकिन पाकिस्तान के साथ ऑस्ट्रेलिया के सेमीफ़ाइनल मैच की याद कॉलिंगवुड के ज़ेहन में ताज़ा थी. और उन्होंने मैच पर पकड़ ढीली नहीं होने दी. "हमने कोई मौक़ा नहीं दिया. जिस तरह से पाकिस्तान के ख़िलाफ़ खेल दिखाया हम कोई जोखिम मोल नहीं ले सकते थे. अगर आप सर्वश्रेष्ठ बनना चाहते हैं तो आपको सर्वश्रेष्ठ टीम को हराना भी पड़ता है. यह एक शानदार प्रदर्शन था."

इंग्लैंड की जीत पर ब्रिटेन में भी ख़ुशी का माहौल है. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने इंग्लैंड के क्रिकेटरों को बधाई देते हुए कहा, "मैं पॉल कॉलिंगवुड और उनके साथी खिलाड़ियों को ट्वेंटी20 वर्ल्ड कप में जीतने पर बधाई देना चाहूंगा. मुझे उम्मीद है कि इस साल खेल प्रतियोगिताओं में इंग्लैंड के लिए यह अच्छी शुरुआत हुई है." खेल और ओलंपिक मंत्री ह्यूग रॉबर्टसन ने भी बधाई संदेश देते हुए कहा है कि इंग्लैंड ने समझदार और मज़ेदार क्रिकेट खेली और टीम जीत की हक़दार है.

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क इस हार से निराश दिखाई दिए और उन्होंने माना कि स्कोर बोर्ड पर ज़्यादा रन नहीं होने की वजह से उन्हें हार का सामना करना पड़ा. "मुझे नहीं लगता कि हमने पर्याप्त रन बनाए. मेरे हिसाब से हमें इंग्लैंड को बधाई देनी चाहिए क्योंकि उन्होंने हमें खेल के हर हिस्से में परास्त कर दिया." क्लार्क का कहना है कि ऑस्ट्रेलिया ट्वेंटी20 में मज़बूत टीम बनकर उभर रही है और आने वाले दिनों में उसका प्रदर्शन अच्छा रहेगा.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: महेश झा

संबंधित सामग्री