1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड चैंपियनशिप में सुशील को सोना

भारतीय पहलवान सुशील कुमार ने विश्व कुश्ती प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया है. वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड जीतने वाले सुशील भारत के पहले पहलवान बन गए हैं. रविवार को मॉस्को में उन्होंने यह कारनामा किया.

default

ओलंपिक पदक भी जीता

सुशील कुमार ने बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था. ऐसा करने वाले वह सिर्फ दूसरे भारतीय पहलवान बने. हरियाणा के सुशील ने रूस के गोगाएव एलान को फाइनल में मुकाबले में 3-1 से हराकर सोना हासिल किया. सुशील 66 किलोग्राम वर्ग में फ्री स्टाइल पहलवान हैं.

इस प्रतियोगिता के पहले दौर में ही सुशील को बाई मिल गई. उसके बाद उन्होंने ग्रीस के आकृतिदिस, जर्मनी के मार्टिन सेबास्टियन और मंगोलिया के बुयान जाव को अलग अलग दौर में मात देकर सेमीफाइनल तक का सफर तय किया. सेमीफाइनल में सुशील ने अजरबैजान के हासानोव जाबरायिल को हराया.

Olympia 2008 Indien Bronze für Sushil Kumar Ringen

ओलंपिक 2008 में भी जीत

सुशील कुमार के अलावा कोई अन्य भारतीय इस प्रतियोगिता में पदक की दौड़ में ज्यादा दूर नहीं दौड़ पाया. सुशील की जीत के बाद भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष जीएस मांदेर ने भारतीय अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, "यह एक महान जीत है. हाल के दिनों में सुशील का प्रदर्शन अच्छा रहा है इसलिए हम उससे गोल्ड की उम्मीद कर रहे थे. और आज तो वह अपनी बेहतरीन फॉर्म में थे. फाइनल में वह रूसी पहलवान पर पूरी तरह हावी रहे, जो दिखाता है कि उनके खेल की क्वॉलिटी क्या है."

सुशील की इस जीत से नई दिल्ली के कॉमनवेल्थ खेलों में भारत की मेडल की उम्मीदें बढ़ गई हैं. हाल ही में डोपिंग में पकड़े जाने की वजह से भारत के तीन सीनियर पहलवान टीम से बाहर हो गए. इस वजह से भारतीय कुश्ती की छवि पर दुनियाभर में असर पड़ा, लेकिन सुशील की यह जीत उस छवि को सुधारने का काम कर सकती है.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links