1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड कप से पहले जर्मनी में बढ़ता जुनून

फुटबॉल वर्ल्ड कप जर्मनी से करीब 5,000 मील दूर दक्षिण अफ्रीका में 2 दिन में शुरू हो जाएगा और जर्मनी में फुटबॉल का खुमार छाने लगा है. फुटबॉल दीवाने बड़ी स्क्रीनों पर मैच देखने और जीतने पर पार्टी की तैयारी में हैं.

default

अशाफ़ेनबुर्ग से त्स्विकाउ तक बालकनी में जर्मन झंडों का दिखना शुरू हो गया है, लोग झंडों को अपनी कारों पर भी लटका रहे हैं. हर उम्र के लोग अपने फुटबॉल सितारों के स्टिकर खरीदने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं. 2006 में जब जर्मनी में वर्ल्ड कप हुआ था तो करीब डेढ़ करोड़ लोगों ने सार्वजनिक स्थलों पर लगी बड़ी स्क्रीन पर मैच देखा.

जर्मनी की छवि एक ऐसे देश की बन गई जहां लोग आनंद उठाने के लिए उत्सुक हैं. वैसे चार साल पहले लोगों के आनंदित होने का एक कारण यह भी रहा कि जर्मन टीम 2006 के वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल तक पहुंची और आखिर में तीसरे स्थान पर रही. जर्मनी की टीम से उसके प्रशंसकों को इस साल भी बड़ी उम्मीदें हैं.

WM 2006 Deutschland Fans Flash-Galerie

योआखिम लोएव की आंख के तारों ने बोस्निया हर्त्सेगोविना के खिलाफ मैच में आक्रामक खेल का प्रदर्शन किया और 3-1 से जीत दर्ज की जो उसके लय में होने का एहसास करा गई. बस थोड़ी चिंता मिशाएल बलाक के न खेलने से है लेकिन जोश में अभी यह बात सोचकर कोई मूड नहीं खराब करना चाहता.

ए380 विमान में बैठकर जर्मन टीम जब रविवार को दक्षिण अफ्रीका के लिए रवाना हुई तो उनके साथ विमान में फ्रैंकफर्ट रेडियो स्टेशन के 11 भाग्यशाली श्रोता भी थे जो एक प्रतियोगिता जीतकर वहां पहुंचे थे. ये श्रोता दक्षिण अफ्रीका में गेम पार्क का दौरा करेंगे और जर्मनी का पहला मैच देखेंगे जिसमें उसका मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से होना है.

Confederations-Cup 2005 Halbfinale Deutschland Brasilien

रविवार रात डरबन में होने वाले इस मैच के लिए जर्मनी में लाखों लोग घरों और पबों के अलावा चौराहों और सड़कों पर जमा होंगे और बड़ी स्क्रीन पर मैच देखेंगे. दक्षिण अफ्रीका और जर्मनी एक ही टाइम जोन में पड़ते हैं इसलिए फुटबॉल दीवानों को मैच देखने के लिए न तो जल्दी उठना पड़ेगा और न ही देर तक जागना पड़ेगा. और अगर 2006 की तरह जर्मनी में मौसम शानदार रहा तो जीत की पार्टी का रंग ही दूसरा होगा.

फुटबॉल संस्था फीफा को बार, रेस्तरां और सार्वजनिक स्थलों पर बड़ी स्क्रीन पर मैच देखने की इजाजत देनी ही पड़ी. उत्तरी जर्मनी में बंदरगाह शहर हैम्बर्ग में बड़ी स्क्रीन को शहर के प्रसिद्ध रेडलाइट एरिया में स्थित हाइलिगेनगाइस्टफ़ेल्ड से हटा कर स्थानीय बुंडेसलीगा क्लब हैम्बर्ग ले जाने की योजना थी जिसका व्यापक विरोध हुआ. शहर प्रशासन खर्च में कटौती के चलते यह कदम उठाना चाह रहा था लेकिन आखिरकार नेताओं को पीछे हटना पडा और अब मैच हाइलिगेनगाइस्टफ़ेल्ड में ही देखे जा सकेंगे.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: महेश झा

संबंधित सामग्री