1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड कप में पहुंचा नेपाल

दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत शिखर के लिए मशहूर छोटे से देश नेपाल ने वर्ल्ड कप क्रिकेट में जगह बना ली है. हांग कांग को हरा कर नेपाल की टीम टी20 वर्ल्ड कप में क्वालीफाई कर गई.

बर्फीली पहाड़ियों में क्रिकेट के ग्राउंड नहीं बन सकते. लेकिन ढाई पौने तीन करोड़ की आाबदी वाले नेपाल के लोगों ने क्रिकेट के मामले में हाल के दिनों में गजब का हौसला दिखाया है. पहली बार वर्ल्ड कप में कदम रखने के साथ ही 11 खिलाड़ियों की टीम ने देश में वाहवाही लूट ली. कई दिनों से राजनीतिक अस्थिरता अखबारों की सुर्खियां बन रही थीं, लेकिन आज का दिन नीली जर्सी पहनने वाले खिलाड़ियों ने नाम रहा. अगले साल 2014 के बांग्लादेश वर्ल्ड कप टी20 में उनका खेलना पक्का हो गया.

दुबई में क्वालिफाइंग मुकाबले में नेपाल की टीम को आखिरी ओवर में जीत के लिए 13 रन चाहिए थे. पांच गेंदों में 12 रन बन गए और आखिरी गेंद पर शरद वेसावकर ने एक रन चुरा लिया. नेपाल की टीम जीत गई. पहाड़ी देश में खुशियां फैल गईं. कांतिपुर अखबार ने मोटे अक्षरों में हेडलाइन लगा दी है, "नेपाल ने इतिहास रचा, वर्ल्ड कप में पहुंचा."

देश का गौरव बढ़ा

बुधवार को देर शाम खत्म हुए मैच के बाद नेपाल की जनता सड़कों पर उतर आई और देश का झंडा फहराने लगी. अंतरिम सरकार के प्रमुख खीलराज रेजमी ने भी टीम को बधाई दी, "मैं इस ऐतिहासिक सफलता से बेहद खुश हूं. इसने न सिर्फ प्रशंसकों में उत्साह भरा है, बल्कि हमारे खेल के गौरव को पूरी दुनिया में बढ़ाया है."

पूर्व प्रधानमंत्री और माओवादी नेता बाबूराम भट्टाराई ने ट्वीट किया, "नेपाल की ट्वेन्टी 20 टीम को वर्ल्ड कप में पहुंचने के लिए बधाई".

नेपाल की यह कामयाबी बेहद अहम है क्योंकि राष्ट्रीय टीम बनाने के सिर्फ 15 साल बाद ही उन्हें वर्ल्ड कप में जगह मिल गई. उनकी राष्ट्रीय टीम 1996 में बनी थी. भारत के पड़ोस में होने की वजह से नेपाल में क्रिकेट तेजी से लोकप्रिय हुआ है, हालांकि पहले वहां का पसंदीदा खेल फुटबॉल ही हुआ करता था.

अफगानिस्तान से टक्कर

श्रीलंका के पूर्व टेस्ट खिलाड़ी पुबुदू दसनायके नेपाल क्रिकेट टीम के कोच हैं. दसनायके के नेतृत्व में ही कनाडा ने 2011 के वर्ल्ड कप में क्वालिफाई किया था.

अगला टी20 वर्ल्ड कप बांग्लादेश में 16 मार्च से छह अप्रैल 2014 को बीच खेला जाएगा. नेपाल के अलावा अफगानिस्तान, आयरलैंड और यूएई ने भी वर्ल्ड कप के लिए क्वालिफाई किया है. हालांकि नेपाल के पास अभी एक कामयाबी का मौका बचा हुआ. वह क्वालिफाइंग मुकाबले का चैंपियन भी बन सकता है. उसे शुक्रवार को अफगानिस्तान के खिलाफ सेमीफाइनल में खेलना है. क्वालिफाइंग राउंड के सेमीफाइनल तक पहुंचने वाली सभी टीमों को वर्ल्ड कप में जगह मिल गई है.

एजेए/ओएसजे (एपी, एएफपी)

DW.COM