1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड कप में आज ब्राजील और नीदरलैंड्स

फीफा विश्व कप में सोमवार को ब्राजील की टीम भिड़ेगी चिली से और नीदरलैंड्स का मुकाबला होगा स्लोवाकिया से. जीतने वाली टीमें क्वार्टर फाइनल में दाखिल होंगीं.

default

उत्तर कोरिया के ख़िलाफ़ ब्राजील ने निराश किया

स्लोवाकिया का विश्व कप में इटली को हराना किसी करिश्मे से कम नहीं था. लेकिन टीम ने बेनामी से निकलकर लोगों की उम्मीदें जगा दी हैं. सोमवार को उनका मुकाबला नीदरलैंड्स से होगा जिसका रिकॉर्ड विश्व कप में अब तक बिलकुल साफ रहा है.

स्लोवाकिया के खिलाड़ी रॉबर्ट विटेक का कहना है, "नीदरलैंड्स पर दबाव ज्यादा होगा. उनसे बहुत सारी उम्मीदें हैं. लेकिन हो सकता है कि हम भी अच्छा खेलें." विटेक का मानना है कि उनकी टीम के लिए यह एक नया अनुभव होगा और वे नतीजे से ज्यादा खेल के बारे में सोच रहे हैं. इससे पहले विटेक ने इटली के खिलाफ दो गोल किए और एक गोल न्यूजीलैंड के खिलाफ भी दागा. उनके लिए विश्व कप में प्रीक्वार्टर फाइनल तक पहुंचना सपने जैसा है.

Südafrika Fußball WM Weltmeisterschaft Holland Japan 19.06.2010 Flash-Galerie

आसान हो सकता है स्लोवाकिया नीदरलैंड्स के लिए

स्लोवाकिया के कोच व्लादिमीर वाइस भी टीम में रह चुके हैं. 1990 में उनके साथ स्लोवाकिया की टीम क्वार्टर फाइनल तक पहुंची थी. और अब कोच की हैसियत से यह उनके कैरियर की सबसे बड़ी सफलता है. उन्होंने कहा, "हम सनसनी करने जा रहे हैं." लेकिन उन्होंने माना है कि यह काम आसान नहीं होगा. उनके मुताबिक नीदरलैंड्स की टीम अपने प्रतिद्वंद्वियों को चकमा देने में माहिर है. लेकिन उन्हें अपनी टीम पर विश्वास है. वह नहीं मानते कि इटली के खिलाफ उनकी टीम की जीत एक तुक्का थी. और नीदरलैंड्स के खिलाफ मैच एक बार फिर इस बात को साबित करने का मौका होगा.

दूसरे मैच में ब्राजील का मुकाबला चिली से हो रहा है. एक तरफ अगर ब्राजील के लिए जीतना आसान है तो दूसरी तरफ चिली भी इस बार एक अच्छी टीम के रूप में सामने आया है. ब्राजील से चिली पिछले पांच सालों में सारे सात मैच हारा है और ब्राजील ने इन खेलों में 26 गोल बनाए हैं. वहीं ब्राजील का प्रदर्शन इस बार उतना अच्छा नहीं रहा है जितना कि इस टीम से उम्मीद की जा रही थी.

ब्राजील अब तक कुल पांच बार विश्व कप जीत चुका है और इस बार भी उसे फेवरिट समझा जा रहा है. माना जा रहा है कि चिली के आक्रामक खेल का ब्राजील फायदा उठाकर उनपर वापस वार कर सकता है. यह रणनीति चिली के खिलाफ लगभग हमेशा ब्राजील के काम आई है. चिली के लिए ब्राजीली खिलाड़ी काका का वापस आना भी कोई अच्छी खबर नहीं है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एम गोपालकृष्णन

संपादनः महेश झा

संबंधित सामग्री