1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड कप में आंसुओं का दौर शुरू

जर्मनी की टीम फ्रांस से और ब्राजील पड़ोसी कोलंबिया से क्वार्टर फाइनल में भिड़ रहा है. अब वर्ल्ड कप का सबसे संजीदा दौर शुरू हो गया है, जहां पास आकर भी टीमें दूर होंगी और तब आंसुओं का छलकना लाजिमी है.

आखिरी आठ टीमों के बीच का मुकाबला कुछ इस तरह शुरू हुआ है कि दोनों ग्रुप में न सिर्फ पड़ोसी देश हैं, बल्कि उनकी सीमाएं भी मिलती हैं. एक मुकाबला फ्रांस और जर्मनी और दूसरा ब्राजील और कोलंबिया. मैच से पहले सात जर्मन खिलाड़ियों को फ्लू होने की खबर आई लेकिन कोच योआखिम लोएव ने यह भी बताया कि मामला गंभीर नहीं है और वे शुक्रवार का मैच खेलने को तैयार हैं.

Fußball WM 2014 Training Deutschland Frankreich Viertelfinale

जर्मन टीम की ट्रेनिंग

इन दोनों टीमों में जर्मनी को फेवरिट माना जा रहा था क्योंकि उसने पहले मैच में पुर्तगाल को 4-0 से हराया था. लेकिन इसके बाद उनकी गोल मशीनें धीमी पड़ गईं. लोएव आलोचनाओं पर ध्यान नहीं दे रहे हैं लेकिन कहते हैं, "मैं यह मानता हूं कि हमने इस वर्ल्ड कप में अपना सर्वश्रेष्ठ नहीं दिया है और वह आना अभी बाकी है." दूसरी तरफ चार मैचों में 10 गोल करने वाले फ्रांस के कोच दिदिये देशां कहते हैं कि उन्हें "न तो खतरा है ना डर".

नेमार बनाम खामेस

कागज पर तो ब्राजील और कोलंबिया का मुकाबला एकतरफा लग रहा है लेकिन खामेस रोड्रिगेस की बदौलत आखिरी आठ तक पहुंचने वाली कोलंबिया वह करिश्माई टीम हो सकती है, जो वर्ल्ड कप में बड़ा उलटफेर करती है. कोलंबिया ने इस वर्ल्ड कप में अपने चारों मैच जीते हैं और टीम का मनोबल बहुत ऊंचा है. यह अलग बात है कि वे ब्राजील में कभी भी ब्राजील से नहीं जीते हैं और आखिरी बार उन्होंने ब्राजील को 1991 में हराया है.

उद्घाटन समारोह में जब ब्राजील का राष्ट्रीय धुन बज रहा था, तो नेमार सुबक रहे थे. अब उनके कंधे पर टीम का बेड़ा पार लगाने की जिम्मेदारी है ताकि पूरी टीम को रोना न पड़े. अब, जब वर्ल्ड कप से 75 फीसदी टीमें विदा हो चुकी हैं, बची हुई आठों टीमें कप का दावेदार मानी जा रही हैं. यहां तक पहुंच कर हारना किसी भी टीम को गवारा नहीं और इस मोड़ पर हार मिलने के बाद आंसुओं को थामना आसान नहीं.

एजेए/एमजे (एएफपी)

संबंधित सामग्री