1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड कप: पाक को सबसे बड़ा खतरा भारत से

कुछ ही दिनों में शुरू हो रहे वर्ल्ड कप क्रिकेट के लिए टीम इंडिया को खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है. पाकिस्तान टीम के कुछ खिलाड़ी भी मानते हैं कि अन्य टीमों की उम्मीदों पर भारत भारी पड़ सकता है.

default

ऑफ स्पिनर सईद अजमल और तेज गेंदबाज सोहेल तनवीर का मानना है कि वर्ल्ड कप में पाकिस्तान की संभावनाओं पर भारत पानी फेर पड़ सकता है. पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रमीज राजा को एक टीवी शो में अजमल ने बताया, "मेरे हिसाब से भारत, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के पास कप जीतने का अच्छा अवसर है, उनकी टीमें भी काफी मजबूत हैं."

Shahid Afridi

सईद अजमल और अफरीदी

अजमल को डर सता रहा है कि अगर पाकिस्तान नॉकआउट चरण से पार पा गया तो अगले राउंड में पहुंचने के लिए उसे भारत की चुनौती का सामना करना पड़ेगा. "भारत के साथ मैच के दौरान जबरदस्त रोमांच और तनाव होता है और अगर ऐसा मैच वर्ल्ड कप के किसी भी दौर में खेला जाए तो यह खेल के लिए अच्छा ही होता है." अजमल मानते हैं कि वह इन दिनों अच्छी फॉर्म में चल रहे हैं और वर्ल्ड कप में बढ़िया प्रदर्शन करने में कामयाब साबित होंगे.

"वर्ल्ड कप में मेरी कोशिश अच्छा खेलने की रहेगी और मैं चाहता हूं कि टूर्नामेंट के बाद लोग याद करें कि अजमल ने टीम के लिए अच्छी गेंदबाजी की." अजमल के साथी खिलाड़ी सोहेल तनवीर भारत और श्रीलंका को ताकतवर टीमें मानते हैं.

"भारत और श्रीलंका के पास मजबूत वनडे टीमें हैं और टूर्नामेंट के किसी भी चरण में दोनों टीमें चुनौती पेश कर सकती हैं. मुझे भरोसा है कि मेरी टीम बढ़िया खेल दिखाएगी और बाद के चरणों में भारत और श्रीलंका को मैं बड़ा खतरा मानता हूं."

तनवीर और अजमल जोर देते हैं कि टीम के अच्छे प्रदर्शन के लिए जरूरी है कि कप्तान और कोच की भूमिका टीम की बेहतरी के लिए हो. "कप्तान और कोच चाहें तो किसी खिलाड़ी के प्रदर्शन को सुधारने के लिए काफी कुछ कर सकते हैं. खासकर जब वह खिलाड़ी खराब दौर से गुजर रहा हो. कप्तान को अपने खिलाड़ियों का समर्थन करना चाहिए और उनमें भरोसा रखना चाहिए.

घुटने के ऑपरेशन के बाद सोहेल तनवीर राष्ट्रीय टीम में करीब एक साल के अंतराल के बाद लौटे हैं. हाल के दिनों में इंग्लैंड के अच्छे प्रदर्शन के बावजूद तनवीर उसे खिताब का दावेदार नहीं समझते.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: एमजी