1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड कप के 12 शहर

ब्राजील बहुत बड़ा देश है और 2014 फुटबॉल विश्व कप यहां के 12 शहरों में खेले जाएंगे. कुछ शहर एक दूसरे से 4,000 किलोमीटर दर हैं और इन शहरों के बीच घूमते फैंस पूरे देश के नजारों का आनंद ले सकेंगे.

ब्रासीलिया

1960 से ब्रासीलिया ब्राजील की राजधानी है. यहां 26 लाख लोग रहते हैं. राष्ट्रपति और संसद इसी शहर में हैं. शहर को जाना जाता है इसकी योजना और ऑस्कर नीमायर की आधुनिक शिल्पकला के लिए. ब्रासीलिया की सबसे मशहूर इमारतों में शामिल हैं, इसका चर्च, राष्ट्रपति भवन यानी पालासियो दो प्लानाल्तो और विदेश मंत्रालय. ब्रासीलिया को संयुक्त राष्ट्र की सांस्कृतिक धरोहरों में गिना जाता है.

रियो दे जेनेरो

रियो, साओ पाओलो के बाद ब्राजील का दूसरा सबसे बड़ा शहर है. यहां 60 लाख से ज्यादा लोग रहते हैं. इसे लोग सिदादे माराविल्योसा कहते हैं, जिसका मतलब है शानदार शहर. रियो को जाना जाता है इसके कार्निवाल, शुगरलोफ माउंटेन, कोपाकबाना तट और कोरकोवादो पहाड़ी पर ईसा मसीह की मूर्ति के लिए.

बेलो होरिसोंते

Brasilien Stadt Niemeyer Kunstmuseum in Curitiba

कुरितीबा में कला संग्रहालय

यह शहर मिनास जेरेस राज्य की राजधानी है और यहां 24 लाख लोग रहते हैं. ब्राजील में इस शहर की अर्थव्यवस्था तीसरी सबसे बड़ी है. यह 850 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है और यह चारों तरफ सेरा दो कुराल पहाड़ियों से घिरा है. यहां के मीनेरो खाने को बहुत स्वादिष्ट माना जाता है.

फोर्तालेजा

पूर्वोत्तर ब्राजील में यह शहर सियारा राज्य की राजधानी है. यहां 24 लाख लोग रहते हैं. यह जगह समंदर पर अपने खूबसूरत तटों के लिए मशहूर है. लेकिन देश का पूर्वोत्तर हिस्सा सबसे गरीब भी माना जाता है हालांकि यूरोप के यह काफी करीब है. लिसबन से फोर्तालेजा की दूरी केवल 5,600 किलोमीटर है.

रेसीफे

रेसीफे भी पूर्वोत्तर का एक शहर है और पेर्नांबुको राज्य की राजधानी है. यहां करीब 15 लाख लोग रहते हैं. शहर को इसकी सुंदर नहरों और पुलों के लिए जाना जाता है और इसलिए इसे ब्राजील का वेनिस भी कहते हैं.

साल्वादोर

Brasilien Christusstatue

रीयो में ईसा मसीह की मूर्ति

साल्वादोर को ब्राजील का अफ्रीकी शहर कहा जाता है क्योंकि यहां अफ्रीकी मूल के बहुत लोग रहते हैं. यहां का खाना मजेदार है. यहां के समुद्री तट और कार्निवाल में इसकी रंगीन सड़कें दुनिया भर में मशहूर हैं.

साओ पाओलो

साओ पाओलो ब्राजील ही नहीं बल्कि दक्षिण अमेरिका का सबसे बड़ा शहर है. यहां एक करोड़ 10 लाख लोग रहते हैं और यह ब्राजील का आर्थिक केंद्र है. ब्राजील के सकल घरेलू उत्पाद का 12 प्रतिशत यहां पैदा होता है. ब्राजील का शेयर बाजार बोवेस्पा भी यहीं है. 1554 में ईसाई पादरियों ने साओ पाओलो की स्थापना की और तब से यह शहर बढ़ता ही जा रहा है. यहां ब्राजीली ग्रां प्री का भी आयोजन होता है.

कुरितीबा

900 मीटर की ऊंचाई पर स्थित कुरितीबा में 18 लाख लोग रहते हैं. यह देश के सबसे ईको फ्रेंडली शहरों में गिना जाता है. यहां का यातायात बहुत ही अच्छी तरह से नियोजित है. यहां की बसें 28 मीटर लंबी होती हैं और इनमें 250 से ज्यादा लोग एक बार में बैठ सकते हैं.

मनाउस

यह शहर रियो नेग्रो नदी के तट पर है और यहां 18 लाख लोग रहते हैं. 19वीं शताब्दी में रबड़ की खेती से शहर में बहुत पैसे आए. रबड़ उद्यमी टेयाट्रो आमाजोनास नाम के एक नाटक और ओपेरा महोत्सव का भी आयोजन करता है. मनाउस एक मुक्त व्यापार क्षेत्र है.

कुयाबा

विश्व कप 2014 के खेल की मेजबानी करने वाला यह सबसे छोटा शहर है. यह मध्य पश्चिम ब्राजील में स्थित है और माटो ग्रोसो राज्य की राजधानी है. कुयाबा में गर्मी होती है और तापमान 40 डिग्री के ऊपर तक पहुंच जाता है.

पोर्तो आलेग्रे

ब्राजील के अमीर शहरों में से एक शहर यह भी है. यहां 14 लाख लोग रहते हैं और इसे कापिताल दोस गाउचोस कहा जाता है यानी गाउचो की राजधानी. गाउचो देश के दक्षिण से आने वाले लोगों को कहते हैं. इसके आसपास इलाकों में खेती बाड़ी और मवेशी पालने का काम चलता है.

नाटाल

नाटाल पूर्वोत्तर ब्राजील का तीसरा शहर है जो विश्व कप 2014 की मेजबानी कर रहा है. यहां करीब आठ लाख लोग रहते हैं. नाटाल का अर्थ है क्रिसमस. और शहर की स्थापना 25 दिसंबर, 1599 में पुर्तगाली यात्रियों ने की थी.

एमजी/एएम

संबंधित सामग्री