1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड कप की तैयारियों में भी भारत पीछे

अगले महीने क्रिकेट वर्ल्ड कप शुरू होना है लेकिन भारत के कुछ स्टेडियम अब भी पूरी तरह तैयार नहीं है. आईसीसी ने उम्मीद जताई है कि कॉमनवेल्थ जैसी मारामारी नहीं मचेगी. श्रीलंका और बांग्लादेश की तैयारियां फिट हैं.

default

आईसीसी के कार्यकारी अधिकारी हारून लोगार्ट ने शनिवार को कबूल किया कि कुछ स्टेडियम वर्ल्ड कप के लिए तैयार नहीं हो सके हैं. चार स्टेडियमों का विशेष रूप से नाम लिया जा रहा है. इनमें दो भारतीय स्टेडियम हैं. लोगार्ट के मुताबिक, ''कुछ ऐसे स्टेडियम हैं जो हमारी योजना से पीछे चल रह हैं.'' इनमें मुंबई का वानखेड़े और कोलकाता का इडेन गार्डन्स भी शामिल है.

लचर तैयारियों की वजह से अब आईसीसी को चिंता होने लगी हैं. लेट लतीफी की वजह से कॉमनवेल्थ खेलों की मारमारी भी याद आ रही हैं. लेकिन लोगार्ट उम्मीद करते हैं वर्ल्ड कप का हाल कॉमनवेल्थ खेलों की तैयारियों जैसा नहीं होगा. मुंबई और कोलकाता के स्टेडियमों का जिक्र करते हुए लोगार्ट ने कहा, ''काम पूरा करने की कोशिशें की जा रही हैं. हमारी रिपोर्टों के मुताबिक कॉमनवेल्थ खेलों जैसी हड़बड़ी नहीं होगी.''

बीसीसीआई के लिए दिल्ली का स्टेडियम राहत लेकर आया है. साल भर पर खतरनाक पिच के चलते बदनाम हुए दिल्ली का फिरोजशाह कोटला स्टेडियम को आईसीसी ने हरी झंडी दे दी है. यानी अब दिल्लीवासी वर्ल्ड कप का मजा ले सकेंगे. वर्ल्ड कप की शुरुआत 19 फरवरी को उद्घाटन समारोह के साथ बांग्लादेश में होगी.

बांग्लादेश और श्रीलंका के स्टेडियम भी तैयार हैं. बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के प्रवक्ता जलाल यूनुस ने कहा, ''हम सभी स्टेडियमों में निर्बाध बिजली का इंतजाम पुख्ता करेंगे. फ्लड लाइट्स काम करेंगी और पिच की क्वालिटी की उच्च होगी.'' श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के मुताबिक उनके भी दो नए स्टेडियम अंतरराष्ट्रीय सुविधाओं के साथ पूरी तरह तैयार हैं.

रिपोर्ट: पीटीआई/ओ सिंह

संपादन: एन रंजन

DW.COM

WWW-Links