1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

वर्ल्ड कप की जर्मन टीम तय

जर्मनी के राष्ट्रीय फुटबॉल कोच योआखिम लोएव ने वर्ल्ड कप के लिए ब्राजील जाने वाली अंतिम टीम की घोषणा कर दी है. लेकिन टीम के फिटनेस पर जो सवाल उठे हैं, टीम में शामिल अंतिम 23 खिलाड़ी उसका जवाब नहीं हैं.

ब्राजील जाने से पहले ट्रेनिंग कैंप के लिए कोच योआखिम लोएव ने 26 खिलाड़ियों को नामजद किया था. उनमें से तीन मार्सेल श्मेल्सर, श्कोद्रान मुस्ताफी और केविन फोलांड को अंतिम टीम से बाहर कर दिया गया है. ब्राजीली शहर सल्वाडोर में पुर्तगाल के खिलाफ होने वाले विश्व कप के पहले मैच से दो हफ्ते पहले जर्मन टीम में कमजोरियां बनी हुई हैं जो इन तीन खिलाड़ियों को बाहर करने के साथ खत्म नहीं हुई हैं.

इस बात में संदेह है कि 16 जून तक जर्मन टीम पूरी तरह स्वस्थ और फिट होगी, और लोएव की चिंताएं दूर हो जाएंगी. लेकिन लोएव खुले में 'सब कुछ ठीक है' का संदेश दे रहे हैं. उन्होंने कैमरून के साथ हुए मैच में 2-2 के ड्रॉ के बाद कहा, "मुझे मालूम है कि हम कुछ चीजें और बेहतर कर सकते हैं, लेकिन मुझे पूरा भरोसा है कि हम दो हफ्ते में बहुत अच्छी हालत में होंगे." इस मैच के बाद लेफ्ट बैक पर खेलने वाले श्मेल्सर को हटा लिया गया है, जिन्हें अंतिम 11 का पक्का खिलाड़ी समझा जा रहा था. फोलांड और मुस्ताफी की तो कैमरून के खिलाफ कोई भूमिका नहीं थी.

अंतिम टीम की घोषणा करते हुए लोएव ने कहा, "स्वाभाविक रूप से श्कोद्रान, मार्सेल और केविन अत्यंत निराश होंगे, लेकिन इस टीम के साथ हम आत्मविश्वास के साथ ब्राजील जा रहे हैं, वहां हमारे बड़े लक्ष्य हैं." राष्ट्रीय कोच टीम की स्थिति पर विचार करने के लिए दो दिनों के लिए फ्राइबुर्ग जा रहे हैं. मोएंशनग्लाडबाख में 41,000 दर्शकों के सामने राष्ट्रीय टीम का प्रदर्शन अपेक्षाओं पर खरा नहीं उतरा है और पुराने सवालों का जवाब देने के बदले उसने नए सवाल खड़े किए हैं.

श्मेल्सर के अलावा फिट घोषित बास्टियान श्वाइनश्टाइगर भी मैच खेलने की हालत में नहीं है. तजुर्बेकार खिलाड़ी मिरोस्लाव क्लोजे को मैच का अभ्यास चाहिए लेकिन उन्हें कैमरून के खिलाफ 90 मिनट तक बेंच पर बिठाए रखा गया. कप्तान फिलिप लाम और गोलकीपर मानुएल नॉयर को फिलहाल चोट से उबरने के लिए अकेले ट्रेनिंग की जरूरत है. लेकिन लोएव ने कहा, "लाम और नॉयर की तरह श्वाइनश्टाइगर भी पूरी तरह बोझ डालने लायक हैं." सेमी खेदिरा भी पूरी क्षमता से खेलने की हालत में नहीं है.

प्रेक्षकों का कहना है कि ट्रेनर का दावा कैमरून में टीम के प्रदर्शन से मेल नहीं खाता. मारियो गोएत्से फॉल्स नाइन की अपनी भूमिका में खरे नहीं उतरे, जबकि मेसुत ओएजिल शुरुआती खेल में ही एक मौका गंवाने के झिझके दिखे. लोएव ने कहा, "उससे ऐसी गलती हुई जो वह आम तौर पर नहीं करता है." लोएव ने उम्मीद जताई कि विश्व कप शुरू होने तक स्थिति बेहतर हो जाएगी. फिलहाल छुट्टी बिताने के बाद जर्मन टीम अगले शुक्रवार को अर्मेनिया के खिलाफ विश्व कप के पहले अपना अंतिम दोस्ताना मैच खेलेगी और एक दिन बाद ब्राजील के लिए रवाना हो जाएगी.

एमजे/एजेए (डीपीए)

संबंधित सामग्री