1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

वजन घटाने से बच्चे पैदा करने में भी आसानी

मां बनने में मुश्किलों का एक कारण औरत का अधिक वजन भी हो सकता है. जर्मन खेल और स्वास्थ्य संस्था डीजीएसपी के मुताबिक नियमित कसरत करने और खान-पान में बदलाव से गर्भवती होने के आसार भी बढ़ जाते हैं.

default

डीजीएसपी का कहना है कि अधिक वजन से गर्भावस्था के दौरान मां और बच्चे दोनों के लिए खतरा बना रहता है. अगर छह से आठ महीने के अंदर महिलाएं 10 किलो वजन कम करें, तो गर्भवती बनने की संभावना 80 प्रतिशत बढ़ जाती है. साथ ही इससे गर्भ को खतरा भी काफी कम हो जाता है.

Nordic Walking

नॉर्डिक वॉकिंग से फायदा

अधिक वजन से महिलाओं को अकसर माहवारी में अनियमितता देखने को मिलती हैं. बच्चे पैदा करने की क्षमता पर भी इसका बुरा असर पड़ता है. जर्मनी में बच्चा पैदा करने की उम्र की महिलाओं में से 35 प्रतिशत का वजन ज्यादा है और इसमें से 20 प्रतिशत को मोटापे का शिकार माना जा सकता है. डीजीएसपी की उलरीके कॉर्स्टेन रेक के अनुसार वजन घटाने से न केवल रोजमर्रा की जिंदगी में बेहतरी आती है, बल्कि बच्चे को जन्म देने में भी आसानी हो जाती है. गर्भवती होने से पहले वजन अगर घट जाता है तो बच्चा पैदा करने के बाद भी वजन सामान्य रहता है.

उलरीके कॉर्स्टेन रेक का कहना है कि हलके-फुलके कसरत और खाने पीने की आदतों को बदलने से बहुत फायदा होता है और ये घरेलू तरीके किसी भी अस्पताल में फर्टिलिटी ट्रीटमेंट से कहीं ज्यादा अच्छे और सस्ते हैं. उनकी सलाह है कि गर्भवती महिलाओं को खूब चलना चाहिए और नॉर्डिक वॉकिंग जैसे कसरत करने चाहिए. साथ ही 30 डिग्री गरम पानी में तैरने से बहुत आराम मिल सकता है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एम गोपालकृष्णन

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links