1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

लौट के खिलाड़ी घर को आए

फिक्सिंग के आरोपों को झेल रही पाकिस्तान की टीम इंग्लैंड से चार महीने बाद घर लौट आई है. शुक्रवार अल सुबह टीम यहां पहुंची. थके हारे अफरीदी और तीन खिला़डी कराची रवाना हुए जबकि बाकी टीम लाहौर रवाना हुई है.

default

टीम के कोच वकार यूनुस ने माना कि मैदान और मैदान के बाहर टीम के लिए यह एक सजा से भरा दौरा रहा. पाकिस्तान की वनडे टीम के कप्तान शाहिद अफरीदी ने कराची में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि यह उनके करियर का एक बहुत मुश्किल दौरा था.
इंग्लैंड से 3-2 से हार के साथ यह सीरीज बुधवार शाम खत्म हुई. लेकिन यह पूरा दौरा खेल के कारण कम और फिक्सिंग के आरोपों और उसकी खबरों के कारण ज्यादा चर्चा में रहा. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अंग्रेज अधिकारियों के कानूनी नोटिस का जवाब देने के लिए वकील से संपर्क किया है. बोर्ड के अध्यक्ष इजाज बट से इंग्लैंड क्रिकेट ने बिना शर्त माफी मांगने की मांग की थी.
वनडे टीम के कप्तान शाहिद अफरीदी का कहना था कि संकट की घड़ी में भी टीम मजबूत बनी रही. उन्होंने कहा, "पूरे दौरे की सबसे अच्छी बात यह रही कि मुश्किल समय में भी टीम एक साथ बनी रही और वनडे में इंग्लैंड को अच्छी टक्कर दी."
अफरीदी ने इशारा किया कि वह टेस्ट क्रिकेट में लौट सकते हैं. उन्होंने कहा, "टीम को अगर जरूरत होगी तो मैं दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में खेलने के बारे में सोचूंगा." कोच वकार ने कहा कि विवादों के कारण इंग्लैंड में खेलना मुश्किल हो गया था क्योंकि खिलाड़ियों का मनोबल अखबारों में छपी रिपोर्टों के कारण बार बार कम हो जाता.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः वी कुमार

DW.COM

WWW-Links