1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

लोगों की बेफिक्री से बच्चे की मौत

छोटे से बच्चे को मिनी बस ने कुचल दिया और वहां मौजूद लोग बेअसर रहे. चीन की इस घटना का वीडियो देखने वालों के रोंगटे खड़े कर रहा है और नैतिकता पर बहस छिड़ी है. इंटरनेट पर लोग पूछ रहे हैं कि क्या नैतिकता मर गई है.

default

फाइळ

वीडियो फुटेज में साफ दिख रहा है कि पांच साल का यान शे खड़ी मिनीबस के सामने से अकेले सड़क पार कर रहा था. अचानक बस चली और उसे कुचल दिया. कई लोग तो चुपचाप वहां से गुजर गए और कुछ उसके आस पास घेरा बना कर खड़े रहे. जब एक महिला मदद के लिए पास से गुजरती कार वाले के पास पहुंची तो वह पीछे मुड़ कर भाग गया. बाद में एक दूसरा कार सवार मदद के लिए आया और उसने यान शे को अस्पताल पहुंचाया लेकिन बच्चे ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया.

शिन्हुआ के मुताबिक मिनीबस के ड्राइवर ने भागने की कोशिश नहीं की. ड्राइवर ने यह भी कहा है कि अगर उसके खिलाफ अदालत में मामला दर्ज नहीं कराया जाता तो वह करीब एक लाख 10 हजार डॉलर का मुआवजा पीड़ित परिवार को देगा.

घटना चीन के पूर्वे जेशियांग प्रांत की है. पुलिस ने समाचार एजेंसी को बताया है कि वीडियो फुटेज असली है. इंटरनेट पर इसे देख कर सवाल पूछने वाले लोगों की कतार लगी है.  एक न्यूज एंकर ने सवाल किया है, "यह खामोश तस्वीर हमारे दिल की गहराई में बड़ी लहरें उठा रही है, हमसे सवाल पूछ रही है कि क्या कहीं कोई अंतरात्मा है." चीन में ट्वीटर जैसी सेवा देने वाली सोशल नेटवर्किंग साइट सीना वाइबो का इस्तेमाल करने वाले कह रहे हैं कि बच्चे की मौत देश में घटते मूल्यों की निशानी है. एक शख्स ने लिखा है, "समाज पूरी तरह से खत्म हो रहा है, कोई शब्द नहीं है जो लोगों की इस बेपरवाही को बयान कर सके. इन राहों पर चलता चीन कितनी दूर जा सकेगा." इसी तरह एक और शख्स ने लिखा है, "चीन के लोगों का नैतिक ताना बाना कूड़े में चला गया है."

हालांकि कुछ लोगों ने इसके लिए जिम्मेदार लोगों पर भी उंगली उठाई है. एक शख्स ने लिखा है, "मुझे लगता है कि बच्चे के अभिभावकों की सबसे ज्यादा जिम्मेदार हैं. आप किसी छोटे बच्चे को सड़क पर खेलने कैसे दे सकते हो. ड्राइवर में भी मानवता नहीं है."

इस बच्चे की मौत ने पिछले साल हुई इसी तरह की घटना की याद दिला दी है जब एक बच्चे को दो गाड़ियों ने कुचला और अगल बगल के लोग देखते रहे. हालांकि एक सरकारी अधिकारी ने शिन्हुआ से कहा कि इस बार की घटना पिछले साल से अलग है क्योंकि ड्राइवर भागा नहीं और आस पास से गुजर रहे लोगों ने मदद की. पिछले साल की घटना दक्षिणी ग्वांगडोंग प्रांत में हुई थी. तब दो साल के युई युई को एक कचरा बीनने वाले ने उठा कर पटरी पर रखा था. 

एनआर/एमजी(एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री