1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

लिएंडर पेस चले बॉलीवूड

डबल्स में खेलना तो भारतीय टेनिस सितारे लिएंडर पेस की खूबी रही है, लेकिन इस बार वे टेनिस और बॉलीवुड का डबल्स खेलने जा रहे हैं. उन्हें एक फिल्म के हीरो के तौर पर देखा जा सकेगा.

default

अब बॉलीवूड की बारी है

यह सही है. मैने अपनी पहली फिल्म की शूटिंग शुरू कर दी है. काफी सनसनीखेज है. यह एक नई बात है - लंदन के ओ2 स्टेडियम में लिएंडर पेस ने इस सिलसिले में कहा. उनका कहना था कि उनकी उम्र अब 37 हो चुकी है. जिंदगीभर वे टेनिस नहीं खेल सकते. वे अपने आप को खुशकिस्मत समझते हैं कि इतने लोग उन्हें चाहते हैं. लिएंडर पेस की राय में बहुतेरे लोग उन्हें देखना चाहेंगे.

राजधानी एक्सप्रेस नाम है उनकी फिल्म का, इस फिल्म में वे हीरो की भूमिका निभाएंगे. इसमें वे एक आम आदमी की भूमिका में होंगे. फिल्म के डायरेक्टर हैं अशोक कोहली. पता चला है कि फिल्म की नायिका होगी अमीशा पटेल. इसके अलावा अभी तक इस फिल्म के बारे में बहुत अधिक जानकारी सामने नहीं आई है.

लिएंडर को इससे पहले भी फिल्म के ऑफर मिलते रहे हैं, लेकिन टेनिस खेलने में व्यस्त रहने के कारण वे उन्हें स्वीकार नहीं कर सके. अब उनका कहना है कि टेनिस के जगत से फिल्म के जगत में जाना उन्हें काफी स्वाभाविक लगता है. यहां भी वे अपने चाहने वालों को खुश कर सकते हैं. वे कहते हैं, आपने देखा होगा कि टेनिस कोर्ट में भी मैं बिंदास रहता हूं. जो कुछ भी मैं करता हूं, चाव से करता हूं. और इस मामले में वे काफी संजीदा हैं, ऐक्टिंग सीखने के लिए वे अनुपम खेर की ऐक्टिंग अकादमी में तीन महीने का एक कोर्स करने

Mahesh Bhupathi und Leander Paes

पेज और भूपति - कुछ मंजिल बाकी हैं

वाले हैं.

फिल्मों के सिलसिले में मैं अभी नौसिखिया हूं-लिएंडर कहते हैं. वे बताते हैं कि यह एक सीरियस फिल्म होगी, किसी भी गाने के साथ उन्हें डांस नहीं करना होगा. गहरी सांस लेकर वे कहते हैं, थैंक्स गॉड !

ऐसी बात नहीं है कि लिएंडर को डांस से चिढ़ हो. वे कहते हैं, मैं डांस एन्जॉय करता हूं, मजा आता है. लेकिन सबसे पहले मैं चाहता हूं कि लोग मुझे एक सीरियस ऐक्टर के तौर पर स्वीकार करें.

और टेनिस के जगत को भी वे अलविदा नहीं कह रहे हैं. अगले साल वे फिर एकबार महेश भूपति के साथ होंगे, हालांकि यह जोड़ा लंबे समय के लिए नहीं होगा. कहीं न कहीं उनके दिमाग के पीछे यह बात कुरेद रही है कि ऑस्ट्रेलियन ओपन एक ऐसी ग्रैंड स्लैम प्रतियोगिता है, जिसे वे भूपति के साथ अभी तक नहीं जीत पाए हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: प्रिया एसेलबोर्न

DW.COM

WWW-Links